Worlds Least expensive Electrical Automotive Wuling Hong Guang Nano Ev Know Value Vary Options Particulars – World’s Least expensive Ev: दुनिया की सबसे सस्ती इलेक्ट्रिक कार, फुल चार्ज में चलेगी 300 किमी, मारुति ऑल्टो से भी कम होगी कीमत

[ad_1]

सार

चीनी कार निर्माता Wuling HongGuang (वूलिंग होंगगुआंग) अपनी मिनी इलेक्ट्रिक कार की भारी सफलता के बाद, अब एक नई इलेक्ट्रिक कार लेकर आई है। कंपनी की किफायती नई इलेक्ट्रिक कार का नाम Nano (नैनो) होगा। 

ख़बर सुनें

World’s Least expensive Electrical Automotive : चीनी कार निर्माता Wuling HongGuang (वूलिंग होंगगुआंग) अपनी मिनी इलेक्ट्रिक कार की भारी सफलता के बाद, अब एक नई कार लेकर आई है। बता दें कि कंपनी की मिनी इलेक्ट्रिक कार साल 2020 में 119,255 यूनिट्स की बिक्री के साथ दूसरी सबसे ज्यादा बिकने वाली ईवी थी। कंपनी ने अपनी किफायती नई इलेक्ट्रिक कार का नाम Nano (नैनो) रखने का फैसला किया है। आपको शायद याद होगा कि यह नाम भारत की प्रमुख वाहन निर्माता कंपनी टाटा मोटर्स की अब तक की सबसे छोटी प्रॉक्डक्शन कार का भी था, जो लखटकिया कार के नाम से भारतीय बाजार में बहुप्रचारित हुई। Wuling Nano (वूलिंग नैनो) न सिर्फ सबसे छोटी इलेक्ट्रिक कार होगी, बल्कि रिपोर्ट्स की मानें तो यह दुनिया की सबसे सस्ती इलेक्ट्रिक कार भी बन सकती है।

मारुति ऑल्टो से भी सस्ती
मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, Wuling Nano EV को 20,000 युआन से ज्यादा कीमत पर नहीं बेचा जाएगा। भारतीय मुद्रा के हिसाब से यह राशि लगभग 2.30 लाख रुपये होगी। इसका मतलब है कि नैनो ईवी की कीमत वास्तव में Maruti Alto (मारुति ऑल्टो) से भी कम हो सकती है। अगर यह सच है, तो नैनो निश्चित रूप से चीन में सबसे ज्यादा बिकने वाली कॉम्पैक्ट इलेक्ट्रिक कार वूलिंग होंगगुआंग मिनी ईवी से सस्ती होगी। 
दुनिया के सबसे बड़े ईवी बाजार में कार निर्माताओं के बड़े SAIC-GM-Wuling (एसएआईसी-जीएम-वूलिंग) समूह का हिस्सा वूलिंग होंगगुआंग ने 2021 तियानजिन इंटरनेशनल ऑटो शो में नई इलेक्ट्रिक कार नैनो ईवी पेश की। यह मॉडल Baojun E200 (बाओजुन ई200) के एक वैकल्पिक वर्जन की तरह दिखता है, जिसे वूलिंग द्वारा भी निर्मित किया गया है। शहरी इस्तेमाल के लिए डिजाइन की गई इस नैनो ईवी में सिर्फ दो सीटें हैं। इस कार का टर्निंग रेडियस चार मीटर से कम है। साइज की बात करें को Nano EV की लंबाई 2,497 mm, चौड़ाई 1,526 mm और ऊंचाई 1,616 mm है। यानी साइज में यह टाटा नैनो से भी छोटा होगी। टाटा नैनो की लंबाई 3 मीटर से ज्यादा है। इसमें 1,600mm का व्हीलबेस मिलेगा। 
Nano EV 33 PS इलेक्ट्रिक मोटर से लैस है और यह 85 Nm का अधिकतम टॉर्क जेनरेट कर सकता है। इस कार की टॉप स्पीड 100 किमी प्रति घंटा है। नैनो ईवी में सीट के नीचे IP67-प्रमाणित लिथियम-आयन बैटरी होगी, जिसकी क्षमता 28 kWh होगी। इस छोटी इलेक्ट्रिक कार की बैटरी को एक बार चार्ज करने पर यह 305 किमी की दूरी तय कर सकती है। वूलिंग के अनुसार, रेगुलर 220-वोल्ट घरेलू सॉकेट का इस्तेमाल कर बैटरी को फुल चार्ज करने में 13.5 घंटे का समय लगता है। यह 6.6 kW AC चार्जर विकल्प के साथ भी आती है, और इसके जरिए चार्ज करने पर इस EV को सिर्फ 4.5 घंटों में फुल चार्ज किया जा सकता है।
साइज में छोटी और किफायती होने के बावजूद, नैनो ईवी में सेफ्टी फीचर्स की कोई कमी नहीं की गई है। इस कार में ईबीडी, इलेक्ट्रॉनिक पार्किंग ब्रेक, आइसोफिक्स चाइल्ड सीट माउंट के साथ एबीएस ब्रेक के इलेक्ट्रॉनिक स्टैबिलिटी कंट्रोल सिस्टम (ईएससी) जैसे सुरक्षा फीचर्स मिलते हैं। इस कार में लो-स्पीड पैदल यात्री वार्निंग सिस्टम भी दिया गया है। नैनो ईवी में रिवर्सिंग कैमरा, टायर प्रेशर मॉनिटरिंग सिस्टम, एयर कंडीशनिंग, कीलेस एंट्री सिस्टम, टेलीमैटिक्स सिस्टम, एलईडी हेडलाइट्स और 7-इंच की डिजिटल स्क्रीन जैसे फीचर्स भी मिलते हैं।

विस्तार

World’s Least expensive Electrical Automotive : चीनी कार निर्माता Wuling HongGuang (वूलिंग होंगगुआंग) अपनी मिनी इलेक्ट्रिक कार की भारी सफलता के बाद, अब एक नई कार लेकर आई है। बता दें कि कंपनी की मिनी इलेक्ट्रिक कार साल 2020 में 119,255 यूनिट्स की बिक्री के साथ दूसरी सबसे ज्यादा बिकने वाली ईवी थी। कंपनी ने अपनी किफायती नई इलेक्ट्रिक कार का नाम Nano (नैनो) रखने का फैसला किया है। आपको शायद याद होगा कि यह नाम भारत की प्रमुख वाहन निर्माता कंपनी टाटा मोटर्स की अब तक की सबसे छोटी प्रॉक्डक्शन कार का भी था, जो लखटकिया कार के नाम से भारतीय बाजार में बहुप्रचारित हुई। Wuling Nano (वूलिंग नैनो) न सिर्फ सबसे छोटी इलेक्ट्रिक कार होगी, बल्कि रिपोर्ट्स की मानें तो यह दुनिया की सबसे सस्ती इलेक्ट्रिक कार भी बन सकती है।

मारुति ऑल्टो से भी सस्ती

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, Wuling Nano EV को 20,000 युआन से ज्यादा कीमत पर नहीं बेचा जाएगा। भारतीय मुद्रा के हिसाब से यह राशि लगभग 2.30 लाख रुपये होगी। इसका मतलब है कि नैनो ईवी की कीमत वास्तव में Maruti Alto (मारुति ऑल्टो) से भी कम हो सकती है। अगर यह सच है, तो नैनो निश्चित रूप से चीन में सबसे ज्यादा बिकने वाली कॉम्पैक्ट इलेक्ट्रिक कार वूलिंग होंगगुआंग मिनी ईवी से सस्ती होगी। 


आगे पढ़ें

टाटा नैनो से भी छोटी

[ad_2]

Supply hyperlink

Share on:

नमस्कार दोस्तों, मैं Pinku, HindiMeJabab(हिन्दी में जवाब) का Technical Author & Co-Founder हूँ. Education की बात करूँ तो मैं 10th Pass हूँ. मुझे नयी नयी चीजों को सीखना और दूसरों को सिखाने में बड़ा मज़ा आता है. मेरी आपसे विनती है की आप लोग इसी तरह हमारा सहयोग देते रहिये और हम आपके लिए नईं-नईं जानकारी उपलब्ध करवाते रहेंगे.

Leave a Comment