Veerappa Moily Arundhathi Subramaniam And Different Winners Obtain Sahitya Akademi Award – साहित्य अकादमी पुरस्कार: वीरप्पा मोइली, अरुंधति सुब्रमण्यम समेत 20 लेखक सम्मानित

[ad_1]

राजनेता-लेखक एम वीरप्पा मोइली और कवयित्री अरुंधति सुब्रमण्यिम समेत 20 लेखकों को शनिवार को वर्ष 2020 के लिए साहित्य अकादमी पुरस्कार से सम्मानित किया गया। मोइली को अपनी कन्नड कविता ‘श्री बाहुबली अहिम्सादिगविजयम’, सुब्रमण्यम को अंग्रेजी कविता संग्रह ‘व्हेन गॉड इज ए ट्रैवलर’ के पुरस्कृत किया गया।

अनामिका (हिंदी), हरीश मीनाक्षी (गुजराती), आरएस भास्कर (कोंकणी), इरुंगबम देवन (मणिपुरी), रूपचंद हंसदा (सैंथिल) और निखिलेश्वर (तेलुगु), नंदा खरे (मराठी), महेशचंद्र शर्मा गौतम (संस्कृत), इमैया (तमिल), श्री हुसैन-उल-हक, अपूर्ब कुमार सैकिया (असमिया), धरानीधर ओवरी (बोडो), हृदय कौल भारती (कश्मीरी), कमलकांत झा (मैथिली) और गुरदेव सिंह रूपाणा (पंजाबी) को भी उनकी कृतियों के लिए साहित्य अकादमी सम्मान से सम्मानित किया गया। साथ ही ज्ञान सिंह (डोगरी) और जीतू लालवानी (सिंधी) और मणिशंकर मुखोपाध्याय (बंगाली) भी सम्मानित होने वालों में शामिल हैं। इस सम्मान के तहत नक्काशीदार तांबे की पट्टिका, शॉल और एक लाख रुपये प्रदान किए जाते हैं। 

साहित्य अकादमी अनुवाद पुरस्कार की घोषणा
कार्यकारी बोर्ड ने शनिवार को 24 भाषाओं में साहित्य अकादमी अनुवाद पुरस्कार 2020 का भी एलान किया। हिंदी भाषा के लिए यह टीईएस राघवन को दिया गया है। उन्होंने तिरुक्कल नामक तमिल कविता संग्रह का अनुवाद इसी शीर्षक से हिंदी में किया है। अंग्रेजी के लिए श्रीनाथ पेरूर को दिया गया है। उन्होंने घाचर घोचर नामक कन्नड़ उपन्यास का अनुवाद इसी शीर्षक से अंग्रेजी में किया है।

बांग्ला भाषा में अनुवाद का साहित्य अकादमी पुरस्कार पुष्पितो मुखोपाध्याय, मराठी में अनुवाद के लिए सोनाली नवांगुल को दिया गया है। इस सम्मान के तहत तांबे की पट्टिका और 50000 रुपये प्रदान किए जाते हैं। यह पुरस्कार इस साल के अंत में प्रदान किए जाएंगे।

रस्किन बांड, विनोद कुमार शुक्ल और छह अन्य लेखक साहित्य अकादमी फेलोशिप के लिए चुने गए
अंग्रेजी भाषा के विख्यात लेखक रस्किन बांड, हिंदी साहित्यकार विनोद कुमार शुक्ल और छह अन्य लेखकों का चयन साहित्य अकादमी फेलोशिप के लिए किया गया है। साहित्य अकादमी ने एक बयान में कहा कि अकादमी की आम परिषद ने अध्यक्ष डॉक्टर चंद्रशेखर काम्बर की अध्यक्षता में एक बैठक में अपने सर्वोच्च सम्मान- फेलोशिप की घोषणा की।

फेलोशिप पाने वाले अन्य लेखकों में सिरशेंदु मुखोपाध्याय (बांग्ला), एम लीलावती (मलयालम), डॉक्टर भालचंद्र नेमाडे (मराठी), डॉक्टर तेजवंत सिंह गिल (पंजाबी) ,स्वामी रामभद्राचार्य (संस्कृत) और इंदिरा पार्थसारथी (तमिल) शामिल हैं।

[ad_2]

Supply hyperlink

Share on:

नमस्कार दोस्तों, मैं Pinku, HindiMeJabab(हिन्दी में जवाब) का Technical Author & Co-Founder हूँ. Education की बात करूँ तो मैं 10th Pass हूँ. मुझे नयी नयी चीजों को सीखना और दूसरों को सिखाने में बड़ा मज़ा आता है. मेरी आपसे विनती है की आप लोग इसी तरह हमारा सहयोग देते रहिये और हम आपके लिए नईं-नईं जानकारी उपलब्ध करवाते रहेंगे.

Leave a Comment