Taliban Removes Afghaistan Cricket Chief Hamid Shinwari And Launched Naseebullah Haqqani As New Ceo Of Afghanistan Cricket Board – एसीबी: तालिबान ने अफगान क्रिकेट मुखिया को पद से हटाया, नसीबुल्लाह हक्कानी के हाथ में सौंपी कमान

[ad_1]

स्पोर्ट्स डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली
Printed by: ओम. प्रकाश
Up to date Tue, 21 Sep 2021 11:17 AM IST

सार

अफगानिस्तान में तालिबान का कब्जा होने के बाद वहां पर लगातार उठापटक जारी है। अब तालिबान ने अफगानिस्तान क्रिकेट बोर्ड के मुखिया को हटाकर नसीबुल्लाह हक्कानी को मुख्य कार्यकारी निदेशक बनाया है। 

ख़बर सुनें

अफगानिस्तान में तालिबान का कब्जा होने के बाद कुछ भी ठीक नहीं चल रहा है। अब तालिबान ने अफगानिस्तान क्रिकेट बोर्ड के मुख्य कार्यकारी निदेशक को हटा दिया है। उनकी जगह तालिबान से जुड़े सदस्य को कमान सौंपी है। अब तक एसीबी के मुख्य कार्यकारी निदेशक हामिद शिनवारी थी। शिनवारी ने अपने फेसबुक पर जानकारी दी कि उन्हें तालिबान ने पद से हटा दिया है। वहीं अफगानिस्तान क्रिकेट के ऑफिशियल फेसबुक पेज पर भी नसीबुल्लाह हक्कानी जिन्हें नसीब खान के नाम से जाना जाता है उन्हें कार्यकारी निदेशक बनाए जाने की जानकारी दी गई है। 

हटाए जाने का कारण स्पष्ट नहीं

जानकारी के मुताबिक, हामिद शिनवारी को मुख्य कार्यकारी निदेशक पद से तालिबान सरकार के नए गृह मंत्री सिराजुद्दीन हक्कानी के छोटे भाई अनस हक्कानी ने हटाया है। शिनवारी ने कहा है कि उन्हें हटाए जाने की वजह नहीं बताई गई है, बस इतना बताया गया कि उनकी जगह नसीबुल्लाहह हक्कानी को एसीबी का मुख्य कार्यकारी निदेशक बनाया जा रहा है। 

कौन हैं नसीबुल्लाह हक्कानी फिहहाल स्पष्ट नहीं

अफगानिस्तान क्रिकेट बोर्ड के नए प्रमुख बनने वाले नसीबुल्लाह हक्कानी कौन हैं यह स्पष्ट नहीं है। क्या वह सिराजुद्दीन हक्कानी का कोई करीबी या रिश्तेदार है यह भी साफ नहीं है। सिराजुद्दीन हक्कानी एबीआई की वॉन्टेड लिस्ट में शामिल हैं। बीते 20 वर्षों में काबुल में हुए कई बड़े हमलों के बारे में एफबीआई उनकी तलाश कर रही है। 

ऑस्ट्रेलिया ने अफगानिस्तान के खिलाफ रद्द कर दिया था टेस्ट

हाल ही में ऑस्ट्रेलिय क्रिकेट बोर्ड ने अफगानिस्तान के खिलाफ खेले जाने वाले टेस्ट मैच को रद्द कर दिया था। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने यह फैसला ऐसे वक्त में लिया था जब तालिबान ने अफगानिस्तान में महिलाओं के खेलने पर प्रतिबंध लगाने की बात कही थी। तालिबान का कहा था कि यह जरूरी नहीं है कि महिलाएं क्रिकेट खेले। ऑस्ट्रेलिया और अफगानिस्तान के बीच इसी साल टेस्ट मैच प्रस्तावित था। 

विस्तार

अफगानिस्तान में तालिबान का कब्जा होने के बाद कुछ भी ठीक नहीं चल रहा है। अब तालिबान ने अफगानिस्तान क्रिकेट बोर्ड के मुख्य कार्यकारी निदेशक को हटा दिया है। उनकी जगह तालिबान से जुड़े सदस्य को कमान सौंपी है। अब तक एसीबी के मुख्य कार्यकारी निदेशक हामिद शिनवारी थी। शिनवारी ने अपने फेसबुक पर जानकारी दी कि उन्हें तालिबान ने पद से हटा दिया है। वहीं अफगानिस्तान क्रिकेट के ऑफिशियल फेसबुक पेज पर भी नसीबुल्लाह हक्कानी जिन्हें नसीब खान के नाम से जाना जाता है उन्हें कार्यकारी निदेशक बनाए जाने की जानकारी दी गई है। 

हटाए जाने का कारण स्पष्ट नहीं

जानकारी के मुताबिक, हामिद शिनवारी को मुख्य कार्यकारी निदेशक पद से तालिबान सरकार के नए गृह मंत्री सिराजुद्दीन हक्कानी के छोटे भाई अनस हक्कानी ने हटाया है। शिनवारी ने कहा है कि उन्हें हटाए जाने की वजह नहीं बताई गई है, बस इतना बताया गया कि उनकी जगह नसीबुल्लाहह हक्कानी को एसीबी का मुख्य कार्यकारी निदेशक बनाया जा रहा है। 

कौन हैं नसीबुल्लाह हक्कानी फिहहाल स्पष्ट नहीं

अफगानिस्तान क्रिकेट बोर्ड के नए प्रमुख बनने वाले नसीबुल्लाह हक्कानी कौन हैं यह स्पष्ट नहीं है। क्या वह सिराजुद्दीन हक्कानी का कोई करीबी या रिश्तेदार है यह भी साफ नहीं है। सिराजुद्दीन हक्कानी एबीआई की वॉन्टेड लिस्ट में शामिल हैं। बीते 20 वर्षों में काबुल में हुए कई बड़े हमलों के बारे में एफबीआई उनकी तलाश कर रही है। 

ऑस्ट्रेलिया ने अफगानिस्तान के खिलाफ रद्द कर दिया था टेस्ट

हाल ही में ऑस्ट्रेलिय क्रिकेट बोर्ड ने अफगानिस्तान के खिलाफ खेले जाने वाले टेस्ट मैच को रद्द कर दिया था। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने यह फैसला ऐसे वक्त में लिया था जब तालिबान ने अफगानिस्तान में महिलाओं के खेलने पर प्रतिबंध लगाने की बात कही थी। तालिबान का कहा था कि यह जरूरी नहीं है कि महिलाएं क्रिकेट खेले। ऑस्ट्रेलिया और अफगानिस्तान के बीच इसी साल टेस्ट मैच प्रस्तावित था। 

[ad_2]

Supply hyperlink

Share on:

नमस्कार दोस्तों, मैं Pinku, HindiMeJabab(हिन्दी में जवाब) का Technical Author & Co-Founder हूँ. Education की बात करूँ तो मैं 10th Pass हूँ. मुझे नयी नयी चीजों को सीखना और दूसरों को सिखाने में बड़ा मज़ा आता है. मेरी आपसे विनती है की आप लोग इसी तरह हमारा सहयोग देते रहिये और हम आपके लिए नईं-नईं जानकारी उपलब्ध करवाते रहेंगे.

Leave a Comment