Six Terrorist Arrest Case Osama And Zeeshan Have been Additionally Educated In Kasab Camp – छह आतंकी गिरफ्तारी मामला: कसाब की ट्रेनिंग वाले कैंप में ही दहशतगर्द बने हैं ओसामा व जीशान, चाहते थे 26/11 को दोहराना

[ad_1]

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली
Printed by: Vikas Kumar
Up to date Thu, 16 Sep 2021 01:59 AM IST

सार

पुलिस अधिकारी ने बताया कि गिरफ्तार आतंकी ओसामा व जीशान को भी पाकिस्तान में कराची के पास थट्टा में फार्महाउस में उसी जगह आतंकी ट्रेनिंग दी गई थी जहां पर मुंबई हमले के दोषी कसाब को दी गई थी।

ख़बर सुनें

देश को दहलाने की साजिश में पकड़े गए छह आतंकियों ने पूछताछ में अहम खुलासा किया है। देश के कई राज्यों को दहलाने की साजिश थी। इसके लिए आईएसआई व अंडरवर्ल्ड बड़े पैमाने पर तैयारी कर रहे थे। आतंकियों ने खुलासा किया है कि अभी इन्हें रैकी व हथियारों को इंतजाम करने के लिए कहा गया था। आईएसआई के निर्देश मिलने के बाद कई राज्यों के मेट्रो शहरों में बम धमाके करने थे। गिरफ्तार आतंकी ओसामा व जीशान को भी पाकिस्तान में उसकी जगह पर ट्रेनिंग दी गई थी जिस जगह मुंबई आतंकी हमले के दोषी अजमल अमीर कसाब को दी गई थी।  

स्पेशल सेल के एक वरिष्ठ अधिकारी ने आतंकी त्यौहारों के दौरान ऐसी जगह पर बम धमाका करना चहाते थे जहां एक धर्म विशेष के लोग एक जगह पर भारी मात्रा में एकत्रित होते हो। बम धमाकों के बाद जान-माल का ज्यादा नुकसान हो और इसके बाद देश में साम्प्रदायिक सौहार्द खराब हो जाए और देश में दंगे फैल जाएग। 

आईएसआई ने दंगों को बड़े स्तर पर फैलाने की साजिश भी रच रखी थी। दूसरी तरफ स्पेशल सेल के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि गिरफ्तार आतंकी 26/11 मुंबई बम धमाकों को दोहराना चहाते थे। इस बार दाऊद इब्राहिम का भाई अनिस इब्राहिम साजिश में शामिल था। वह आतंकियों के संपर्क में था। 26/11 के हमले की साजिश अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम शामिल था। 

पुलिस अधिकारी ने बताया कि गिरफ्तार आतंकी ओसामा व जीशान को भी पाकिस्तान में कराची के पास थट्टा में फार्महाउस में उसी जगह आतंकी ट्रेनिंग दी गई थी जहां पर मुंबई हमले के दोषी कसाब को दी गई थी। यहां पर ओसामा व जीशान को पिस्टल व एके-47 जैसे हथियार हैंडल करना व चलाना सिखाया गया था। साथ में आईईडी बनाया सिखाया गया था। आतंकियों को मेजर या लेफ्टिनेंट रैंक और गाजी नाम के अधिकारी ने ट्रनिंग दी थी। गाजी के दो सहायक जब्बार और हमजा थे। पूछताछ में ये भी खुलासा हुआ है कि आतंकियों को कसाब जैसे अंधाधुंध फायरिंग कर टॉरगेट किलिंग करनी थी। टॉरगेट किलिंग के तहत राजनेता व धार्मिक गुरू निशाने पर थे। 

विस्तार

देश को दहलाने की साजिश में पकड़े गए छह आतंकियों ने पूछताछ में अहम खुलासा किया है। देश के कई राज्यों को दहलाने की साजिश थी। इसके लिए आईएसआई व अंडरवर्ल्ड बड़े पैमाने पर तैयारी कर रहे थे। आतंकियों ने खुलासा किया है कि अभी इन्हें रैकी व हथियारों को इंतजाम करने के लिए कहा गया था। आईएसआई के निर्देश मिलने के बाद कई राज्यों के मेट्रो शहरों में बम धमाके करने थे। गिरफ्तार आतंकी ओसामा व जीशान को भी पाकिस्तान में उसकी जगह पर ट्रेनिंग दी गई थी जिस जगह मुंबई आतंकी हमले के दोषी अजमल अमीर कसाब को दी गई थी।  

स्पेशल सेल के एक वरिष्ठ अधिकारी ने आतंकी त्यौहारों के दौरान ऐसी जगह पर बम धमाका करना चहाते थे जहां एक धर्म विशेष के लोग एक जगह पर भारी मात्रा में एकत्रित होते हो। बम धमाकों के बाद जान-माल का ज्यादा नुकसान हो और इसके बाद देश में साम्प्रदायिक सौहार्द खराब हो जाए और देश में दंगे फैल जाएग। 

आईएसआई ने दंगों को बड़े स्तर पर फैलाने की साजिश भी रच रखी थी। दूसरी तरफ स्पेशल सेल के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि गिरफ्तार आतंकी 26/11 मुंबई बम धमाकों को दोहराना चहाते थे। इस बार दाऊद इब्राहिम का भाई अनिस इब्राहिम साजिश में शामिल था। वह आतंकियों के संपर्क में था। 26/11 के हमले की साजिश अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम शामिल था। 

पुलिस अधिकारी ने बताया कि गिरफ्तार आतंकी ओसामा व जीशान को भी पाकिस्तान में कराची के पास थट्टा में फार्महाउस में उसी जगह आतंकी ट्रेनिंग दी गई थी जहां पर मुंबई हमले के दोषी कसाब को दी गई थी। यहां पर ओसामा व जीशान को पिस्टल व एके-47 जैसे हथियार हैंडल करना व चलाना सिखाया गया था। साथ में आईईडी बनाया सिखाया गया था। आतंकियों को मेजर या लेफ्टिनेंट रैंक और गाजी नाम के अधिकारी ने ट्रनिंग दी थी। गाजी के दो सहायक जब्बार और हमजा थे। पूछताछ में ये भी खुलासा हुआ है कि आतंकियों को कसाब जैसे अंधाधुंध फायरिंग कर टॉरगेट किलिंग करनी थी। टॉरगेट किलिंग के तहत राजनेता व धार्मिक गुरू निशाने पर थे। 

[ad_2]

Supply hyperlink

Share on:

नमस्कार दोस्तों, मैं Pinku, HindiMeJabab(हिन्दी में जवाब) का Technical Author & Co-Founder हूँ. Education की बात करूँ तो मैं 10th Pass हूँ. मुझे नयी नयी चीजों को सीखना और दूसरों को सिखाने में बड़ा मज़ा आता है. मेरी आपसे विनती है की आप लोग इसी तरह हमारा सहयोग देते रहिये और हम आपके लिए नईं-नईं जानकारी उपलब्ध करवाते रहेंगे.

Leave a Comment