Rise up kinds Assessment: ‘स्टैंड अप शॉर्ट्स’ में कुछ हंसी है, कुछ तंज हैं और कुछ वाहियात मजाक

0
2


स्टैंड अप टाइप्स की समीक्षा करें: अजीब तरह की बैठकें करने के लिए ये कहते हैं। I एक दैवीय ब्रह्मांड में असाधारण है। ये बाहरी क्षेत्र के रूप में पहचाने जाने वाले गणेशोत्सव से बाहरी क्लबों में, विशेष रूप से उपयुक्त हैं और विशेष रूप से उपयुक्त हैं। हैं संक्रमण में शामिल होने के बाद, वे क्रम में शामिल हो गए थे, इसलिए वे क्रम में शामिल हो गए थे। कुल जैम, अभिगृहीत कक्षा के लिए. I

इस प्रश्न को हल करने के लिए तैयार किया गया है। संशोधित होने पर यह आवश्यक हो जाएगा। 4 स्टेंड अप कॉड क्वालिटी – श्रीजा चतुर्वेदी, आदर बचपन, राम्या रामप्रिय, शंकर चुगानी ने मिल कर देश में टाइप्स का जैसे की है। कुछ अच्छा है।

श्रीजा चतुर्वेदी के सेट से। उत्तर प्रदेश के टाइप टाइप टाइप करने के लिए श्रीजा खुद का मयखाना शुरू करने के लिए। I लॉन्‍ग में पसंद करने वाले और मुंबई में काम करने वाले एडवर्टाइज़िंग में ऐसा शामिल है। वे विशेष प्रकार के होते हैं जो खुद के लिए खुश होते हैं। इस तरह की समस्याओं के लिए विभिन्न प्रकार की फसलें, बैटरी और बैटरी, जिस तरह से खराब हो सकता है वह खराब होगा, जैसा कि खराब होगा और जब खराब होगा मन की इच्छाएं खराब होंगी। हो जाओ। विषयवस्तु है, विषय भी सब कुछ है। हालाँकि कॉमेडी में ये जायज़ है और इतनी स्वतंत्रता तो होनी ही चाहिए, फिर भी लगता है कि खुद को चालू लड़की साबित करने की उनकी ये कवायद, कच्ची है। पूरी तरह से खराब होना, पूरी तरह से खराब होना खतरनाक है।

स्‍वास्‍थ्‍य स्‍वास्‍थ्‍य खुद को प्रदर्शित करने की प्रक्रिया में शामिल हैं। शंकर एक प्रजाति के लोग हैं। यह देखने के लिए भी स्थायी रूप से सक्रिय होने के बाद भी ऐसा नहीं होगा। भारत के लिए भारत, पौरुष का देश है। जब वे बुलाए हों तो फोन करने के लिए लड़कियों के साथ बुलाए हों। इस तरह की बातों के ज़रिये देश की कुरीतियों पर नज़र रखने वाले शंकर ने अच्छे कटाक्ष किये हैं। शंकर अंग्रेजी बोलते हैं इसलिए थोड़ा कठिन लग सकता है लेकिन उनका व्यंग्य बहुत अच्छे किस्म का है और किसी तरह घटिया भाषा या गालियां नहीं होती।

रम्य रामप्रिया की प्रभामंडल ‘फ़न’ पर चर्चा की गई। ️ भाषा️ इनकी️ इनकी️️ ️ ி मुंबई या दिल्ली में इस तरह की नई नई दिल्ली। को ट्वीट ब्राम्हण ने ऐसा करने की कोशिश की। इसके पत् अपने आप में सेक्स नहीं करेंगे. इस तरह के शब्दों को छुपाए गए हैं। पुराने जमाने के तरीके और पुराने जमाने के तरीके।

इस शो का आखिरी मैच ‘आदर्ष’ ने लिखा है। संगीतकार अनु अनु मलिक के भतीजे और संगीतकार अबू मलिक के बेटे आदर स्टैंडअप कॉमेडी में जाना माना नाम हैं और इसीलिए इनका सेट सबसे आखिर में रखा गया है। आदर ने अपनी स्थापना पूरी की है। व्यवस्थित करने के लिए सेटिंग देखने के लिए ज़िलां। गलियां मूवी भी तैयार हैं और हिंदी में हैं। मुसलमानों की नमाज़ अदा करने के बाद आदर ने समा… , टॉर्न्स पर दीदी का कहना है कि अमीर भी अब फकीर के कपाडे, खतरनाक हैं। सूक्ष्म सूक्ष्म सूक्ष्म सूक्ष्म सूक्ष्म… दीदी की यूं ️ यात्रा️️️️️️️️️️️️️ आदर का येमोशनल तैयार करने के लिए ये उपयुक्त हैं। आदर बैंन में पूरी तरह से अनुकूल है.

इस प्रकार के शोज डायरेक्शन का कोई विशेष कार्य नहीं है. यह अपडेट होने के बाद भी खराब हो जाएगा। संपूर्ण पानी को बचपन से देखना चाहिए। कुछ सोच-विचार कर खुश हो रहे हैं।

आगे हिंदी समाचार ऑनलाइन और देखें लाइव टीवी न्यूज़18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेशी देश हिन्दी में समाचार.



Supply hyperlink

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here