Punjab Cm Charanjit Singh Channi Took The First Assembly Of Secretaries – सचिवों संग सीएम की पहली बैठक: चन्नी बोले- मैं नरम और कोमल हूं पर इतना नहीं, काम न करने वालों पर होगी कार्रवाई

[ad_1]

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, चंडीगढ़
Printed by: ajay kumar
Up to date Tue, 28 Sep 2021 02:11 AM IST

सार

मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को हिदायत दी कि वे मंत्रियों, विधायकों और निर्वाचित प्रतिनिधियों को उचित सम्मान दें। उन्होंने सख्त शब्दों में कहा कि उनकी सरकार के रहते प्रशासन से भ्रष्टाचार को जाना ही होगा और सभी अधिकारियों व कर्मचारियों के लिए जरूरी है कि वे आम आदमी के कार्यों को प्राथमिकता के आधार पर पूरे करें। उन्होंने कहा कि सभी लोगों के लिए जाति, पंथ और समुदाय से परे होकर काम किए जाएं ताकि प्रत्येक व्यक्ति को न्याय मिले।

पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी।
– फोटो : अमर उजाला

ख़बर सुनें

पंजाब सरकार के प्रशासनिक सचिवों के साथ अपनी पहली बैठक में मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने सोमवार को यह संकेत दे दिया कि वे अफसरशाही के प्रति नरम या लापरवाही भरा रवैया नहीं रखने वाले। उन्होंने जनता के कामों को प्राथमिकता देने और भ्रष्टाचार पर गंभीरता से अंकुश लगाने का निर्देश दिया और साफ कर दिया कि वह उन अधिकारियों और कर्मचारियों के खिलाफ कार्रवाई करेंगे जो आम लोगों के काम नहीं करेंगे।

यह भी पढ़ें- Punjab Cupboard Growth: ये है चरणजीत सिंह चन्नी का नया मंत्रिमंडल, पढ़ें नए-पुराने मंत्री चेहरों का राजनीतिक सफर

बैठक के दौरान चन्नी ने कहा कि मैं नरम और कोमल हूं लेकिन कृपया मेरी नम्रता को ऐसे न समझें कि यह निष्क्रियता पर ध्यान नहीं जाने देगी। मैं उन लोगों के खिलाफ कार्रवाई करूंगा, जो आम लोगों के लिए काम नहीं करेंगे। मैं अपने मामूली संसाधनों से खुश हूं, इसलिए मैं यह साफ कर देना चाहता हूं कि मुझे कड़ी मेहनत के अलावा किसी से भी कुछ नहीं चाहिए। अगर कोई मेरे नाम से किसी भी गलत काम के लिए आपसे संपर्क करता है तो कृपया सीधे मेरे पास आएं और मुझे बताएं।

बैठक में उपस्थित मुख्य सचिव अनिरुद्ध तिवारी ने मुख्यमंत्री को भरोसा दिलाया कि सभी सचिवों ने मुख्यमंत्री के संदेश को गंभीरता से और स्पष्ट तौर पर समझा है, जिसकी वह सराहना भी करते हैं। उन्होंने मुख्यमंत्री को यह भी भरोसा दिलाया कि सभी अधिकारी उनकी उम्मीदों पर खरा उतरते हुए आम लोगों के कार्यों के प्रति किसी तरह की लापरवाही नहीं होने देंगे।

मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने पंजाब सरकार के कामकाज में तेजी लाने की कोशिशें तेज करते हुए सोमवार को राज्य के प्रशासनिक सचिवों के निर्देश दिया कि वे प्रत्येक विभाग के लिए 100 दिन का रोडमैप तैयार कराएं। उन्होंने यह हिदायत भी दी कि रोडमैप मुख्य सचिव के पास भेजे जाएं, जो इनकी समीक्षा कर आगे योजना तय करेंगे।

यह भी पढ़ें- तस्वीरों में किसानों का भारत बंद: पंजाब भर में व्यापक असर, सड़क और बाजार दिखे सूने, 22 ट्रेनें रहीं रद्द

मुख्यमंत्री चन्नी ने अपने मंत्रिमंडल के साथ सोमवार को बुलाई पहली कैबिनेट बैठक के बाद राज्य के प्रशासनिक सचिवों के साथ बैठक की। उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि भले ही सरकार के पास केवल 4 महीने का ही समय है लेकिन वह चाहते हैं कि प्रशासनिक अमला पूरी क्षमता के साथ पंजाब के लोगों की सेवा करे। उनकी प्राथमिकता कामकाज में पारदर्शिता है और वह अधिकारियों व कर्मचारियों के तबादलों के दौरान भ्रष्टाचार की शिकायतों को बर्दाश्त नहीं करेंगे।

विस्तार

पंजाब सरकार के प्रशासनिक सचिवों के साथ अपनी पहली बैठक में मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने सोमवार को यह संकेत दे दिया कि वे अफसरशाही के प्रति नरम या लापरवाही भरा रवैया नहीं रखने वाले। उन्होंने जनता के कामों को प्राथमिकता देने और भ्रष्टाचार पर गंभीरता से अंकुश लगाने का निर्देश दिया और साफ कर दिया कि वह उन अधिकारियों और कर्मचारियों के खिलाफ कार्रवाई करेंगे जो आम लोगों के काम नहीं करेंगे।

यह भी पढ़ें- Punjab Cupboard Growth: ये है चरणजीत सिंह चन्नी का नया मंत्रिमंडल, पढ़ें नए-पुराने मंत्री चेहरों का राजनीतिक सफर

बैठक के दौरान चन्नी ने कहा कि मैं नरम और कोमल हूं लेकिन कृपया मेरी नम्रता को ऐसे न समझें कि यह निष्क्रियता पर ध्यान नहीं जाने देगी। मैं उन लोगों के खिलाफ कार्रवाई करूंगा, जो आम लोगों के लिए काम नहीं करेंगे। मैं अपने मामूली संसाधनों से खुश हूं, इसलिए मैं यह साफ कर देना चाहता हूं कि मुझे कड़ी मेहनत के अलावा किसी से भी कुछ नहीं चाहिए। अगर कोई मेरे नाम से किसी भी गलत काम के लिए आपसे संपर्क करता है तो कृपया सीधे मेरे पास आएं और मुझे बताएं।

बैठक में उपस्थित मुख्य सचिव अनिरुद्ध तिवारी ने मुख्यमंत्री को भरोसा दिलाया कि सभी सचिवों ने मुख्यमंत्री के संदेश को गंभीरता से और स्पष्ट तौर पर समझा है, जिसकी वह सराहना भी करते हैं। उन्होंने मुख्यमंत्री को यह भी भरोसा दिलाया कि सभी अधिकारी उनकी उम्मीदों पर खरा उतरते हुए आम लोगों के कार्यों के प्रति किसी तरह की लापरवाही नहीं होने देंगे।


आगे पढ़ें

‘सभी विभाग 100 दिन का रोडमैप बनाएं’ 

[ad_2]

Supply hyperlink

Share on:

नमस्कार दोस्तों, मैं Pinku, HindiMeJabab(हिन्दी में जवाब) का Technical Author & Co-Founder हूँ. Education की बात करूँ तो मैं 10th Pass हूँ. मुझे नयी नयी चीजों को सीखना और दूसरों को सिखाने में बड़ा मज़ा आता है. मेरी आपसे विनती है की आप लोग इसी तरह हमारा सहयोग देते रहिये और हम आपके लिए नईं-नईं जानकारी उपलब्ध करवाते रहेंगे.

Leave a Comment