Price Of Inflation Primarily based On All India Client Worth Index (cpi) And Client Meals Worth Index (cfpi) For The Month Of September 2021 – महंगाई की मार : पेट्रोल-डीजल और गैस की कीमतें बढ़ने के बाद भी सरकारी आंकड़ों में महंगाई कैसे कम हुई?

[ad_1]

रिसर्च डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली
Revealed by: हिमांशु मिश्रा
Up to date Wed, 13 Oct 2021 03:20 PM IST

सार

कंज्यूमर प्राइज इंडेक्स यानी खुदरा महंगाई दर में पिछले एक साल के अंदर 3.26% की गिरावट दर्ज हुई है। वहीं, कंज्यूमर फूड प्राइज इंडेक्स में 10.39% की भारी गिरावट देखी गई है। हालांकि, इस बीच पेट्रोल-डीजल और नेचुरल गैस की कीमतें लगातार बढ़ती रहीं। पढ़िए महंगाई पर विशेष रिपोर्ट…
 

महंगाई दर में एक साल के अंदर भारी गिरावट दर्ज हुई है।

महंगाई दर में एक साल के अंदर भारी गिरावट दर्ज हुई है।
– फोटो : अमर उजाला

ख़बर सुनें

विस्तार

देश में महंगाई बड़ा मुद्दा है। मंगलवार को सांख्यिकी और कार्यक्रम कार्यान्वयन मंत्रालय (MSPI) ने कंज्यूमर प्राइज इंडेक्स (CPI) यानी खुदरा महंगाई दर और कंज्यूमर फूड प्राइज इंडेक्स (CFPI) जारी की है। इसके मुताबिक, पिछले एक साल के अंदर खुदरा महंगाई में 3.26% की गिरावट दर्ज हुई है जबकि खाने-पीने की चीजों की महंगाई 10.39% कम हुई है। मतलब साफ शब्दों में समझें तो आप अपनी घरेलू जिंदगी में खाने-पीने से लेकर जिन वस्तुओं का उपभोग करते हैं वो सब सस्ता हो गया है।

 अब बात पेट्रोल-डीजल और नेचुरल गैस की करते हैं। पेट्रोल-डीजल के दामों में अक्तूबर 2020 से अक्तूबर 2021 तक करीब 15 रुपए का इजाफा हुआ है। इसी तरह नेचुरल गैस यानी एलपीजी, सीएनजी और पीएनजी में भी 5-15 रुपए तक की बढ़ोतरी हुई है। अब आप सोच रहे होंगे कि जब पेट्रोल-डीजल और गैस के दाम बढ़ने के बाद भी महंगाई दर कैसे कम हो रही है? कानपुर के डीएवी कॉलेज के अर्थशास्त्री डॉ. मनोज श्रीवास्तव से समझिए क्या है महंगाई का पूरा खेल…       

[ad_2]

Supply hyperlink

Share on:

नमस्कार दोस्तों, मैं Pinku, HindiMeJabab(हिन्दी में जवाब) का Technical Author & Co-Founder हूँ. Education की बात करूँ तो मैं 10th Pass हूँ. मुझे नयी नयी चीजों को सीखना और दूसरों को सिखाने में बड़ा मज़ा आता है. मेरी आपसे विनती है की आप लोग इसी तरह हमारा सहयोग देते रहिये और हम आपके लिए नईं-नईं जानकारी उपलब्ध करवाते रहेंगे.

Leave a Comment