Modi Cupboard Choice: Cupboard Assembly Chaired By Pm Modi, Many Necessary Selections Taken – Modi Cupboard Assembly Choice: 1.31 लाख करोड़ की पीएम पोषण योजना को हरी झंडी, जानिए और क्या-क्या फैसले हुए

[ad_1]

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली
Printed by: Amit Mandal
Up to date Wed, 29 Sep 2021 04:10 PM IST

सार

अनुराग ठाकुर ने कहा कि कैबिनेट ने पीएम पोषण योजना को हरी झंडी दी है जिसमें देश भर में 11.2 लाख सरकारी व सरकारी सहायता प्राप्त स्कूलों में मिड-डे मील दिया जाएगा। जानिए बैठक में और क्या-क्या फैसले हुए। 

केंद्रीय मंत्रिमंडल (फाइल फोटो)

केंद्रीय मंत्रिमंडल (फाइल फोटो)
– फोटो : PIB

ख़बर सुनें

विस्तार

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में मंगलवार को हुई केंद्रीय मंत्रिमंडल की बैठक में कई अहम फैसले लिए गए। केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर और पीयूष गोयल ने आज इन फैसलों की जानकारी दी। 

अनुराग ठाकुर ने कहा कि कैबिनेट ने पीएम पोषण योजना को हरी झंडी दी है जिसके तहत देश भर में 11.2 लाख सरकारी व सरकारी सहायता प्राप्त स्कूलों में मिड-डे मील दिया जाएगा। ये योजना पांच साल तक चलेगी और इसके लिए 1.31 लाख करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे। 

उन्होंने कहा कि पीएम पोषण योजना में बाकी मिड-डे मील योजना समाहित हो जाएगी। ये योजना राज्य सरकार के सहयोग से चलाई जाएगी लेकिन इसमें अधिक योगदान केंद्र सरकार का होगा। 

अनुराग ठाकुर ने कहा कि मध्य प्रदेश में नीमच-रतलाम लाइन अभी भी सिंगल लाइन है। इस लाइन को डबल लाइन करने की मंजूरी दे दी गई है। 133 किलोमीटर की इस लाइन पर लगभग 196 करोड़ रुपए खर्च होंगे। 

गुजरात में राजकोट-कनालुस लाइन को भी डबल लाइन में बदलने की मंजूरी दी गई। 111 किलोमीटर की इस लाइन पर 1080 करोड़ रुपये का निवेश होगा। इन दोनों लाइन के निर्माण होने से उद्योगों को बल मिलेगा। सुनिश्चित किया गया है कि तीन साल में इन दोनों रेलवे लाइनों को पूरा किया जाए। 

इसके साथ ही कैबिनेट ने ईसीजीसी लि. में 4,400 करोड़ रुपये के निवेश को भी मंजूरी दे दी, जिसके तहत न सिर्फ निर्यातकों बल्कि बैंकों को भी मदद दी जाएगी। इससे 59 लाख नई नौकरियां पैदा होंगी। 

पीयूष गोयल ने कहा कि कैबिनेट ने स्टॉक एक्सचेंज में आईपीओ के जरिए एक्सपोर्ट क्रेडिट गारंटी कॉर्पोरेशन लि. की लिस्टिंग को भी मंजूरी दे दी है। उन्होंने कहा कि संभवत ईसीजीसी की अगले साल शेयर बाजार में लिस्टिंग हो सकती है। 

चीन से सेबों के आयात पर इंपोर्ट ड्यूटी हटाए जाने की खबरों पर गोयल ने कहा कि ऐसा कोई फैसला नहीं लिया गया है। यह पूरी तरह आधारहीन है। ऐसा लगता है कि कुछ लोगों का काम सिर्फ अफवाह फैलाना ही है। 

 

[ad_2]

Supply hyperlink

Share on:

नमस्कार दोस्तों, मैं Pinku, HindiMeJabab(हिन्दी में जवाब) का Technical Author & Co-Founder हूँ. Education की बात करूँ तो मैं 10th Pass हूँ. मुझे नयी नयी चीजों को सीखना और दूसरों को सिखाने में बड़ा मज़ा आता है. मेरी आपसे विनती है की आप लोग इसी तरह हमारा सहयोग देते रहिये और हम आपके लिए नईं-नईं जानकारी उपलब्ध करवाते रहेंगे.

Leave a Comment