Mahant Narendra Giri Dying: Narendra Giri Take part In Ram Janmabhoomi Andolan Actively – महंत नरेंद्र गिरि: रामजन्म भूमि आंदोलन में निभाई थी अहम भूमिका, विवादों से जुड़े 17 संतों को अखाड़ा परिषद से किया था बाहर

[ad_1]

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, हरिद्वार Printed by: अलका त्यागी Up to date Mon, 20 Sep 2021 11:08 PM IST

अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि ने रामजन्म भूमि आंदोलन में भी बढ़-चढ़कर भाग लिया था। उनकी अध्यक्षता में विवादों से जुड़े 17 संतों को अखाड़ा परिषद ने बहिष्कृत किया गया था। सनातन मूल्यों एवं अखाड़ों के सिद्धांतों के प्रति वह वचनबद्ध थे। अखाड़ा परिषद के पूर्व अध्यक्ष ज्ञानदास के कार्यकाल के बाद श्रीमहंत नरेंद्र गिरि की अध्यक्ष पद पर ताजपोई हुई थी। 

उत्तराखंड: महंत नरेंद्र गिरि के शिष्य आनंद गिरि को हरिद्वार पुलिस ने हिरासत में लिया

महंत नरेंद्र गिरि के असमय निधन से संतों में शोक की लहर है। हरिद्वार से उनका गहरा रिश्ता रहा है। कुंभ 2021 के सकुशल संचालन में उन्होंने अहम भूमिका निभाई थी। उनके निधन का समाचार मिलते ही धर्मनगरी में शोक की लहर दौड़ गई है। राष्ट्रीय महामंत्री श्रीमहंत हरि गिरि और श्री निरंजनी अखाड़े के सचिव श्रीमहंत रविंद्र पुरी समेत कई संत प्रयागराज के लिए रवाना हो गए। 

श्रीमहंत नरेंद्र गिरि हर महीने हरिद्वार स्थित अपने निरंजनी अखाड़ा आते थे। यहां का समस्त संत समाज उनके जाने से बेहद दु:खी है। जगद्गुरु शंकराचार्य स्वामी राजराजेश्वराश्रम महाराज ने श्रीमहंत नरेंद्र गिरि के निधन पर गहरा दु:ख जताया। उनकी मृत्यु के कारणों की उच्चस्तरीय जांच की मांग करते हुए उन्होंने कहा कि नरेंद्र गिरि जैसा संत आत्महत्या नहीं कर सकता।

[ad_2]

Supply hyperlink

Share on:

नमस्कार दोस्तों, मैं Pinku, HindiMeJabab(हिन्दी में जवाब) का Technical Author & Co-Founder हूँ. Education की बात करूँ तो मैं 10th Pass हूँ. मुझे नयी नयी चीजों को सीखना और दूसरों को सिखाने में बड़ा मज़ा आता है. मेरी आपसे विनती है की आप लोग इसी तरह हमारा सहयोग देते रहिये और हम आपके लिए नईं-नईं जानकारी उपलब्ध करवाते रहेंगे.

Leave a Comment