Mahant Narendra Giri Dying Case Up Authorities Suggestion Cbi Inquiry – महंत नरेंद्र गिरि मौत मामला: योगी सरकार ने की सीबीआई जांच की सिफारिश, खुलेंगे कई राज

[ad_1]

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, लखनऊ
Revealed by: Vikas Kumar
Up to date Wed, 22 Sep 2021 11:23 PM IST

सार

प्रयागराज में अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि मृत्यु से जुड़े मामले की जांच सीबीआई द्वारा किए जाने की संस्तुति राज्य सरकार ने दी है। 

नरेंद्र गिरि (फाइल फोटो)।
– फोटो : amar ujala

ख़बर सुनें

अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष और मठ बाघंबरी गद्दी के महंत नरेंद्र गिरी की मौत की गुत्थी उलझी है। इस बीच महंत नरेंद्र गिरि मृत्यु से जुड़े मामले की जांच राज्य सरकार ने सीबीआई द्वारा किए जाने की सिफारिश की है। इस बात की जानकारी गृह विभाग ने देते हुए कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सीबीआई जांच की सिफारिश की है। 

आपको बता दें कि अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि सोमवार को संदिग्ध हालत में फांसी पर लटके मिले थे। बांघबरी मठ स्थित एक कमरे में उनका शव फंदे पर लटका मिला था। मौके से एक सुसाइड नोट भी मिला था, जिसमें अपमान से आहत होकर कदम उठाने समेत अन्य बातें लिखी हैं।

सीबीआई जांच की याचिक इलाहाबाद हाईकोर्ट में की गई थी दायर 
इससे पहसे मंगलवार को इलाहाबाद हाईकोर्ट के अधिवक्ता व सामाजिक कार्यकर्ता सुनील कुमार उर्फ सुनील चौधरी ने महंत नरेंद्र गिरि की संदिग्ध मौत की सीबीआई जांच की मांग में पत्र याचिका दायर की थी। इलाहाबाद हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश के समक्ष दाखिल इस जनहित याचिका में कहा गया है कि मठ की संपत्ति के गबन को लेकर विवाद है। अखबार की खबर में बड़े पुलिस अधिकारियों व भू माफिया के लिप्त होने की आशंका जताई गई है। इस मामले में तीन लोगों की गिरफ्तारी की गई है। इसलिए घटना की जांच सीबीआई से कराई जाए या न्यायिक जांच हो या एसआईटी गठित की जाए। पत्र याचिका में जिलाधिकारी व एसएसपी को जांच के दौरान निलंबित करने की भी मांग की गई है। याची का कहना है कि राज्य मशीनरी महंत की सुरक्षा करने में नाकाम रही है।

विस्तार

अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष और मठ बाघंबरी गद्दी के महंत नरेंद्र गिरी की मौत की गुत्थी उलझी है। इस बीच महंत नरेंद्र गिरि मृत्यु से जुड़े मामले की जांच राज्य सरकार ने सीबीआई द्वारा किए जाने की सिफारिश की है। इस बात की जानकारी गृह विभाग ने देते हुए कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सीबीआई जांच की सिफारिश की है। 

आपको बता दें कि अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि सोमवार को संदिग्ध हालत में फांसी पर लटके मिले थे। बांघबरी मठ स्थित एक कमरे में उनका शव फंदे पर लटका मिला था। मौके से एक सुसाइड नोट भी मिला था, जिसमें अपमान से आहत होकर कदम उठाने समेत अन्य बातें लिखी हैं।

सीबीआई जांच की याचिक इलाहाबाद हाईकोर्ट में की गई थी दायर 

इससे पहसे मंगलवार को इलाहाबाद हाईकोर्ट के अधिवक्ता व सामाजिक कार्यकर्ता सुनील कुमार उर्फ सुनील चौधरी ने महंत नरेंद्र गिरि की संदिग्ध मौत की सीबीआई जांच की मांग में पत्र याचिका दायर की थी। इलाहाबाद हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश के समक्ष दाखिल इस जनहित याचिका में कहा गया है कि मठ की संपत्ति के गबन को लेकर विवाद है। अखबार की खबर में बड़े पुलिस अधिकारियों व भू माफिया के लिप्त होने की आशंका जताई गई है। इस मामले में तीन लोगों की गिरफ्तारी की गई है। इसलिए घटना की जांच सीबीआई से कराई जाए या न्यायिक जांच हो या एसआईटी गठित की जाए। पत्र याचिका में जिलाधिकारी व एसएसपी को जांच के दौरान निलंबित करने की भी मांग की गई है। याची का कहना है कि राज्य मशीनरी महंत की सुरक्षा करने में नाकाम रही है।

[ad_2]

Supply hyperlink

Share on:

नमस्कार दोस्तों, मैं Pinku, HindiMeJabab(हिन्दी में जवाब) का Technical Author & Co-Founder हूँ. Education की बात करूँ तो मैं 10th Pass हूँ. मुझे नयी नयी चीजों को सीखना और दूसरों को सिखाने में बड़ा मज़ा आता है. मेरी आपसे विनती है की आप लोग इसी तरह हमारा सहयोग देते रहिये और हम आपके लिए नईं-नईं जानकारी उपलब्ध करवाते रहेंगे.

Leave a Comment