Internet Kya Hai-What is Internet in Hindi

Share This Post If You Found This Helpfull

hi दोस्तों internet आने के बाद हम लोगों की जिन्दगी जिने का तरीका बिलकुल बदल चुकी है.तो मैं इसी पोस्ट के जरिये आप सभी को बताने जा रहा हूँ की  Internet Kya Hai (What is internet in hindi) Internet एक महाजाल है .जो की सभी नेटवर्क  को आपने साथ जुड़ी रखता है.आप सभी जो भी device की मदत से इसी पोस्ट को पढ़ रहे  हो वो भी Internet को इस्तेमाल करके. internet नहीं होता तो आप सभी इसी  पोस्ट को नहीं पढ़ सकते.

Internet, आज कल हेर कोई बचे से लेकर बड़े तक सबका जरुरत बन चूका है चाहे बो डॉक्टर हो Teacher हो या Student जो कोई भी ब्यक्ति हो  Internet सब का जरुरत बन चुकी है.Internet के माध्यम से हम घेर बैठे पूरी  दुनिया मैं क्या चल रहा  है बारे मैं जानकारी पा सकते है.इस लिए इन्टरनेट आज के समय मैं बहोत सारी जरुरत का माध्यम बन चुकी है.इन्टरनेट के माध्यम से लोग घेर बैठे पैसे कामा रहे है. 

 
आप सभी के मन मैं सबाल होगा की Internet Kya Hai (what is internet in hindi) और इन्तीर्नेट का फ्यादैऔर नुकसान  क्या है तो मीन इश पोस्ट मैं आपकी हेर सबाल की जबाब देने का पूरी प्रयास करूँगा तो इसी पोस्ट को लास्ट तक पढ़े.  
Internet Kya Hai-What is Internet in Hindi
Internet Kya Hai-What is Internet in Hindi
 

 

Internet Kya Hai( What is internet in hindi)

internet सूचना को आदान प्रदान कर ने का एक बेसिबक computer network कहलाता है जिसमें सभी कंप्यूटर आपस मैं जुड़ा रहेता है.internet के अर्थ को सरल भासा मैं समजा जाता तो इसका मतलब  है की इंटरनेशनल नेटवर्क जो की दुनिया की सबसे बड़ा नीतोर्क है.internet दुनिया की सभी कंप्यूटर को Router और वेब सर्च के माध्यम से जोड़ता है. इन्टरनेट को हिंदी मैं अंतरजाल काहा जाता है.   
तो आप सभी को समज मैं आगेया होगा की Internet Kya Hai (what is internet in hindi) तो मैं आगे आपको बताने जारहा हूँ की internet कैसे काम करता है.
  

Internet कैसे काम करता है. 

 
Internet किसी एक कंपनी और सर्कार की अधीन नहीं है.internet मैं कंप्यूटरस  एक दुरे के साथ नेटवर्क के माध्यम से जुड़ता है वहां पैर नेटवर्क जुड़ता है Getways मैं internet Backbone माध्यम से वहीँ internet से कोम्पुतेर्स एक दुसरे के साथ संपर्क बनाता है TCP और IP के माध्यम से जो की एक Basic protocol होता है internet का. TCP/IP क्या करते हैं की जो internet मैं transmission होता है जेसे की data,file और document .   
 
उसको manage करता है लेकिन data,file और document को manage करने केलिए उशे छोटे छोटे parts मैं तोड़ना पड़ता है जिसे हमलोग Data grams कहेते हैं. 
सूचना : TCP/IP ( Transmission Control Protocol/Internet Protocol)
 
इसको भी पढ़े >google kya hai-अर किसने बनाया है-hindi meaning of google 
 

Internet का इतिहास (History Of Internet)

सबसे पहले इन्टरनेट का सुरुआत अमेरिका सेना दुआर पेंटागन अमेरिका के रक्षा बिभाग मं की गये थी.बर्ष 1969 
मैं ARPA मतलब (Advance Research Project Agency) नाम का Networking Project लांच किया गया था.जिसका इस्तेमाल यौध के समय बिना किसी मुशिकिल के गोपनीय सूचना भेजने और संचार ब्याब्स्ता को सुरक्षित रखने के लिया किया गया था.वहीँ जादा समय के बाद इससे मिलने बाले लाभों को देख बिज्ञानिक, मेलिट्री के लोग और कॉन्ट्रैक्टर्स इसका इस्तिमाल करने लगे.  
 
> अरपा की कामियाबी के बाद इसे सामान्य जन जीबन के उपयोग करने के लायक बनाया गया तब इसे नाम दिया गया ARPANET यानि (advance research project agency network) .अमेरिकी बज्ञानिक लियोनार्ड क्लेंरोच्क और पॉल बेरीन तथा ब्रिटिस बज्ञानिक लोरेनस रोबर्ट्स ने इसे system का concept design किया. 
 
सबसे पहेले vinton gray cert और bob kanh नाम की दो सख्ये  के दुआर साल 1970 मैं इन्टरनेट का सुरुआत की गई थी इसलिए उन्हें इन्टरनेट का जनक भी काहा जाता है
 
> Ray Tomlinson ने नेतोर्क के लिए पहेले file transfer protocol तयार किया जिसका नाम था CPYNET .Ray Tomlinson ने साल 1972 मैं पहेला email भेजा. हालाकि प्रारंभ मे इसे तरह की email उसी उप्यौग्केर्ता को भेजी जा सकती थी जो जो उसी computer का उपयौग करता है. इसी दिकत से निजात पाने के लिए  Ray Tomlinson ने @ का इजात किया. फिर बाद मे एक से दूसरी देश भेजना सरल हो गया.   
 
> ब्रिटिश डाकघर मैं पहेली बार इन्टरनेट का इस्तिमाल साल 1979 मैं नई पद्यौगिकी के रूप मैं किया गया. इसके बाद मैं कंप्यूटर तकनिकी मैं तेजी  से बिकास हुआ.  
 
> National Science Foundation ने कुछ high-speed computer को जोड़ केर साल 1980 मे एक नेटवर्क (NSFNET) तयार किया जिसने बाद मैं internet की निब रखी .वहीँ इसी साल बिल ग्रट्स की कंपनी microsoft ने भी आपनी operating system IEBAM की कंप्यूटर पैर लगाने का सौदा तय किया. 
 
> साल 1984 मैं इस नेटवर्क से 1000  से जादा निजी कंप्यूटर जुड़  गए इसके बाद धीरे धीरे इसका बिकास हुआ और आज इसके दुनिया का सबसे बड़ा नेटवर्क का रूप धारण केर लिया है.
 
> आम जनता के लिए साल 1989 मैं internet खोल दिया गया जिससे इस्तेमाल बड़ी स्तर पैर लोगों दुआर comunication ओए research के लिए किया जाना लगा.World Wide Web (www) की खोज से internet को साल 1990 मैं एक नई दिसा दी गई. इसके बाद मैं और तेजी से बिकास होता चला गया.   
 
> सिक्षा एबं रिसर्च से संबोधीत सूचनाओं के आदान प्रदान के लिए high speed network को बिकसित करने के मकसद से  साल 1991 (NREN) National Research Education Network ) की स्तापना की गए.इसके बाद साल 1993 मैं पहेला Graphic web Browser और(MOSAIC) सॉफ्टवेर की खोज ने इन्तेर्न्नेट के बिकास को गति प्रदान की. 
 
> भारत देश मैं साल 1980 मे internet की सुरुआत हुई जब Education Research Network (ERNET) प्रोजेक्ट प्रराम्ब हुआ.इस प्रोजेक्ट को भारत सरकार और (UNDP) की मदत से सुरु किया गया. भारत मैं बिकास संचार निगम लिमिटेड दुआर टेलिकॉम लाइन के जरिये भारत मैं सबसे पहेला इन्टरनेट का इस्तेमाल 15 August 1995 मैं किया गया था.सुरुआत मैं देश मे करीब 20 या 30 कंप्यूटर इंटरनेट मेनन जुड़ सके थी.90 के दसक मैं भारत मैं इन्टरनेट का तेजी से बिकास हुआ और इस का पहुँच देश कके कोने कोने मैं हो गई.     
 
आज दुनिया मैं ऐसा कोई भी अनुस्तान नहीं है जहाँ इन्टरनेट का इस्तेमाल नहीं हो रही है.इसलिए internet को दुनिया का सबसे बड़ा आबिस्कर माना गया.  
 
  तो दोस्तों ये रही आपके सामने Internet Kya Hai और Internet कैसे काम करता है और History of internet तो आगे मैं आप सभी को Internet का फ़ायदा और नुकसान के बारे मैं बताने जा रहा हूँ . 
 

Internet Uses (Hindi) 

 
1.Communicate 
 
आप सभी लोगों email,whats aap,facebook आदि बारे मैं जाना होगा इसे इस्तेमाल करने के लिए हामे इन्टरनेट का उपियौग करना पड़ेगा जेसे email के जरिये हम एक जगा से दूसरी जगा किसी भी तरका डाटा भेज साकते हैं और Whats aap,Facebook मे हम लोग घेर बेठे एक दुसरे से बात कर सकते है.  
 
2.Education 
 
internet के मदत से घेर बैठे online course केरकते है और internet की मदत से आप study related सबाल को आसानी से solve कर सकते है.internet के मदत से आप दुनिया के बड़े बड़े अध्यापक से पढ़ सकते होऔर तो  दुनिया के बड़े उनिवेर्सित्य के बारे मैं जान पयौगे और दाखिला ले पयौगे.   
 
3.Shopping 
 
आप सभी को पता है की आप लोग घेर बैठे आपनी मन पसंद का सामान खरीद सकते हो वो भी इन्टनेट की मदत से.इन्टनेट की मदत्त से बड़ी आसानी से आप दुकान मैं कोंसी सामान है और कोंसी नेहि है उसका जानकारी ले सकते हो और खरीद सकते हो. 
   
4.Entertainment 
 
खाली समय मैं हम लोग इन्टरनेट माध्यम से गाना सुन् सकते है और किसी भी तरका मूवी या विडियो देख सकते हैं और मनोरंजन के लिए game भी खेल सकते है इसी लिए इन्टरनेट अब हेर घेर मैं मनोरंजन का साधन बन चुकी है.
 
5.Jobs 
  
हामारी दुनिया का सबसे मुस्किल काम हे जॉब मिलना लेकेन इन्टरनेट के मदत से घेर बैठे आप किसी भी कंपनी मे full time और part time जॉब के लिए अप्प्ले केर सकते हो और online job भी केर सकते हो.लोगों इन्टरनेट के मदत से घेर बैठे लाखो मैं कामा रहे हैं.

 Internet के फायदे (Benifits of Internet) 

internet हामारी जिन्दगी का एक ऐसी हिसा बन चुकी है जिसे हम लोग इस्तेमाल ना केर के रहे सकते हैं.इन्टरनेट का बहोत सारी फायदे है जेसे की इन्टरनेट के मदत से हम लोग घेर बैठे पढाई केर सकते है और online किसी भी तारा का जॉब केर सकते है और तो घेर बैठे एक दुसरे से बात कर सकते है बो भी एक दुसरे को देख केर विडियो कॉल के माध्यम से.इन्टरनेट से खाली समय मेनन online गाना सुन सकते है ओए किसी भी तरका फिल्म और विडियो देख सकते है मनोरंजन के लिए.   
 
Internet का नुक्सान (Disadvantages Of Internet)
 
इन्टरनेट का जितना फायदे है उतना भी नुक्सान है.एक तो इन्न्तेर्नेट को इस्तेमाल करने के लिए हमे पैसे देना पड़ता है.जिस लोग आपनी ऑफिस का काम करने के लिए इन्टरनेट इस्तेमाल केते हैं जिसे उनका फायदे  होता है लेकिन कुछ लोग बिना काम के internet से लगी  रहेते हैं उनके लिए समय का बर्बादी है.इसी लिए हमे अन्तर नेट को इस्तिमाल करना चाहिए ना की इन्टरनेट हमे इस्तेमाल करे.दुनिया मैं असी भी लोग हेट है की जो इन्टरनेट के मदत से आपनी दुसमन या जिसे बदनाम करने चहेते हैं उनके बारे मैं बुरी बाते या बुरी तस्बीर विडियो online प्रचार करते हैं.आपको पता है की आप online किसी भी वेबसाइट में रजिस्टर करने के लिए डाक्यूमेंट्स देते हो उनमे से जादा तेर वेबसाइट आप की डाक्यूमेंट्स का दुरुप्यौग करते हैं बाद मैं आप का नुक्सान होता है.      
 

conclusion – 

दोस्तों ये रही आपकी सामने Internet Kya Hai (what is internet in hindi),internet कैसे काम करता है और internet का फायदे और नुक्सान के बारे मैं पूरी जानकारी.आप सभी को इसी  पोस्ट मैं किसी भी तरका सबाल हे तो हमे कमेंट करे और आर्टिकल आपको केसे लगा हमें जरुर कमेंट करके बताये अगर पोस्ट आपको अच्छा लगता है तो आप इसे आपनी दोस्तों और social media account जेसे facebook,whatsapp पर शेयर करे.
 
 
 


Share This Post If You Found This Helpfull

Hey, I am Linku Ranjan a part-time blogger and founder of hindimejabab.com

Leave a Comment