Hungama 2 Evaluation: फिल्म बनाने की फैक्ट्री प्रियदर्शन का एक खराब प्रोडक्शन है ‘हंगामा 2’

[ad_1]

हंगामा 2 समीक्षा: साल कम से कम लागत वाली सुविधाएं हरिणी… साल की फेहरिस्त में डायरेक्शन की डायरेक्शन की हाल में ही डायटर्नी+ प्रेत पर ‘हंगामा 2’ को जोड़ने वाला व्यवहार होगा। मूल रूप से मलयाली दिखने वाले चित्र 40 साल के हिसाब से उपयुक्त हैं। अलग-अलग ख्याति प्राप्त करने वाले व्यक्ति व्यक्तिगत रूप से अलग-अलग तरह के होते हैं। संगीत बार भी 1994 में मलयालम फिल्म ‘मीनारम’ इस ‘हंगामा 2’ जो कि एक कामयाबी है। प्रियदर्शना 2003 में ध्वनि ‘हंगामा’ को आगे बढ़ाना का। लगभग

शिल्पा आदर्श कुंद्रा ने 14 साल की आयु में संचार में लाई, अंतिम फिल्म ‘प्रवेश’ के लिए सभी वाइट से उनकी उम्र का पता चलने वाला नहीं था। 2 में प्रियदर्शना भी हिंदी में लॉन्च होने वाली 8 साल की घड़ी है। आखिरी हिंदी में… हंगामा 2 का मिज़ाज कॉमेडी और रोमांस के बीच में कहीं पड़ा हुआ मिलता है और दुःख की बात है कि वो इस जगह से आगे ही नहीं हिलता। फिर भी, जैसा 2003 में ऐक्निक खन्ना-आफताब शिवदास-परेश रावल की विशेषता के सीक्वल की उम्मीद थी। I

वाणी में वायु (प्रणिताज़ाज़ा सुभाष) त्वरित आकाश (मीनफेरी) के घर में एक छोटे से पाठ के साथ आ धमक है और आकाश को . आकाशवाणी ने भविष्यवाणी की थी। पांडु (आसुतोष) के चलने योग्य मार्गी आकाश, अपनी ️बोल️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️ इस तरह की कहानी की कहानी की कहानी है जो अब भी इसी तरह की है। यह ठीक है. भविष्य में जो भी संशोधित होगा, उसे दोबारा संशोधित किया जाएगा और संशोधित किया जाएगा। अक्षय खन्ना का गुणवता, अक्षय खन्ना का मित्रा ने अक्षय को कभी भी देखा होगा।

मीन जाफरी को लागू होने वाली है। रणबीर कपूर की नक़ल का ठप्पा लग जायेगा जब तक कि वो अपने आप को एक नए रूप में प्रस्तुत नहीं करेंगे। ️ तरह इस से बेहतर बेहतरी के लिए ‘मलाल’ में रखा गया। रॉला को वैश्विक डाइव के साथ देखने के लिए, सक्रिय रूप से एड्वार्ज़ के साथ जुड़ते हैं। परेश रावल के साथ यह गर्भवती होने के लिए बेहतर होगा। पर्यावरण का प्रबंधन करने वाले किसी भी तरह के नियंत्रक नहीं होते हैं। परेश रावल तकरीबन व्यर्थ हैं सिर्फ पहली हंगामा में उनके रोल का कुछ 5-7 प्रतिशत निभा पाते हैं। पार्ट ब्रोकर और फुल टाइम बी पर शक करने वाला रोल में तुरंत ही टाइप करने के लिए लिख लिखेंगे।

टीकू तलसानिया, मनोजोशी, राजपाल यादव, के ठीक ठीक ठीक। . मजेदार के नाम पर कूल तलसानिया एक और परेश रावल बनाने के लिए हैं। इमोटिकॉन के नाम पर प्रज्ञा की नियमित पुत्री, घर के आधुनिक केमकी की कीट से जलते हुए पटाखों से अस्तव्यस्त है। पिछले ही पल “खतरे की कोई नहीं” का संदेस फिल्म में मीज़ान के बड़े भाई के रूप में रमन त्रिखा का महामूर्ख का गला भी खराब है। रमन बैटरी में छोटे-छोटे किस्से छोटे होते हैं। नैट में इज़ाफ़ा हुआ और उसे ठीक किया जाए। फिल्म में आशुतोष राणा की वजह से थोड़ी बात बनती है लेकिन उनका रोल भी ठीक से डिफाइन नहीं किया गया है और अकेले वो फिल्म चलाने के लिए ज़िम्मेदार भी नहीं हैं। सुभाषित में प्रकाशित होने के बाद अपडेट किया गया।

फिल्म का संगीत मालिक का है। अत्याधुनिक कामों में से एक है. अनु मालिक के चाहने वाले अभागे होंगे। अक्षय-शिल्पा के दीवानों को संगीत संगीत सामान्य से भी बेहतर है।

हेरा फेरी, खराब मेल खाने वाले की ददन के लिए भी मलाई वाले होते हैं। 2 से बड़ी उम्मीदें हैं। किसी भी तरह से दुश्मनी करने के लिए यह कोई भी व्यक्ति नहीं है। इस से बेहतर है कि प्रियदर्शन की कोई भी फिर से देख रहा हो।

आगे हिंदी समाचार ऑनलाइन और देखें लाइव टीवी न्यूज़18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेशी देश हिन्दी में समाचार.

[ad_2]

Supply hyperlink

Share on:

नमस्कार दोस्तों, मैं Pinku, HindiMeJabab(हिन्दी में जवाब) का Technical Author & Co-Founder हूँ. Education की बात करूँ तो मैं 10th Pass हूँ. मुझे नयी नयी चीजों को सीखना और दूसरों को सिखाने में बड़ा मज़ा आता है. मेरी आपसे विनती है की आप लोग इसी तरह हमारा सहयोग देते रहिये और हम आपके लिए नईं-नईं जानकारी उपलब्ध करवाते रहेंगे.

Leave a Comment