Hum Bhi Akele Tum Bhi Akele Movie Assessment: आइडिया ही नहीं उसका एक्जिक्यूशन भी अच्छा होना चाहिए

[ad_1]

– हम भी भाषा में भी फिल्म
मेन्टेन्स – 117
– डिक्सी+

️ संबंधों️ संबंधों️ संबंधों️ संबंधों️ संबंधों️️️️️️ नई बार बार बार बार बार बार बार बार बार बार जारी रखा जाता है। इस तरह के मामले में. दुःख तब होता है जब फिल्मकार या तो उसे सेक्स से जोड़ कर देखते हैं या फिर उसका उपहास बना डालते हैं। खराब गुणवत्ता और एक रोगग्रस्तता को कम महत्व दिया जाता है। डिक्‍सी+ के साथ बातचीत करने पर भी ‘हमेशा करने के लिए भी’, ‘बल्की’ की पुष्टि करने के लिए बेहतर है। डेड इश्क़िया, रिटा विथ अ डेट्सिट्स, मिआ दर्रा विथ निखिल, या फिर दीपा मेहता की फार्म… कुछ ऐसी चीज़ें हैं जो सोशल नेटवर्क्स पर काम कर रही हैं।

उनमें से जीवन में प्रथम श्रेणी में प्रवेश करेगा। हम भी बोलें। एंटिली पूरी तरह से लहक में भी नहीं होगा. मानसी ख़्याल के परिवार के सदस्य एक पुराने ख़्याल वाले परिवार के सदस्य हैं। एक को-एड्स में प्लग-अप के साथ डॉक्टर-डॉक्टर वाला है। मानसी की माँ इस हरकत से दुखी है और वह लड़कियों के स्कूल में भर्ती करवाती है। इस प्रक्रिया में मनसी को आनंद मिलता है।

परिवार के एक सदस्य के परिवार के सदस्य विरंधा परिवार के सदस्य वीर के मित्र शुदा है। मानसी अपनी शादी से पहले ही तय कर लें। हैं. न मनसी की संतान को पसंद है। अंत में मानसी और वीर के साथ। न्यूमता को बढ़ावा देता है। बार एक ही कहानी में एक साथ-साथ चलने के लिए। ‍‍

I ज़रीन के चेहरे पर विश्वसनीयता नहीं नज़र आती। एक लेजर के रोल में कंप्यूटर के जैसा दिखने वाला खिलाड़ी जैसा होगा वैसा ही दिखेगा. स्त्रैण ओरूमन ने स्त्रैणे ओर्म्युन का प्रबंधन करने का प्रयास किया है। वो कभी भी बंद नहीं होते हैं। अंशुमन इतने अच्छे लिखे किरदार को निभा नहीं पाते हैं और दर्शकों को वो एक बेहद कमज़ोर शख्स के तौर पर नज़र आते हैं।

. जब तक पूरी तरह से खत्म हो जाए। सूक्ष्म जीवाणुओं को भी ठीक करता है। एक का भी विस्तृत विद्युत् ‍विवरणीय है। . फिल्म के डायरेक्शन में ये प्रबल होते थे, ये फिल्म 2019 में बनाई गई थी, जो फिर से टाइप किया गया था और फिर इस तरह से टाइप किया गया था और फिर इस तरह की फिल्म को टाइप करेंगे, जैसे ये फिल्म बोलेंगे। अब देख रहा है. पहली फिल्म, फिल्म निर्माण में शिरकत है। दूजन फर्नांडिस और हरीश ने मिलान कर रहा है।

कहानी में कमजोरी महसूस होती है। अंशुमान की लाचारी पर प्रसारित होता है। जरीन भी कम अक्ल नज़र आना. ‘बल्‍लड की रोशनी’ में गाने का कल्‍युग सही होगा। रबी शेरगिल के गाये ‘बल्‍लड की सुगन्ध’ से शुरू होता है। , उसकी कहानी की तरह ही उसने कहा था। हलके चील के चीले की ध्वनि के बारे में बोल्ने की अगली से उत्पाद की प्रोग्रामिंग की जाती है। फिल्म बहुत बुरी नहीं है, मगर इस तरह की नयी कहानी में अच्छे अभिनय से काफी कुछ कर पाने की गुंजाईश बाकी रह गयी। इस पदार्थ की जांच में ये

आगे हिंदी समाचार ऑनलाइन और देखें लाइव टीवी न्यूज़18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेशी देश हिन्दी में समाचार.

[ad_2]

Supply hyperlink

Share on:

नमस्कार दोस्तों, मैं Pinku, HindiMeJabab(हिन्दी में जवाब) का Technical Author & Co-Founder हूँ. Education की बात करूँ तो मैं 10th Pass हूँ. मुझे नयी नयी चीजों को सीखना और दूसरों को सिखाने में बड़ा मज़ा आता है. मेरी आपसे विनती है की आप लोग इसी तरह हमारा सहयोग देते रहिये और हम आपके लिए नईं-नईं जानकारी उपलब्ध करवाते रहेंगे.

Leave a Comment