Himachal Climate Replace: Cloud Burst In Raghupur Valley Kullu Himachal Pradesh, Highway And The Fields Swept Away Due To Flood In The Khad – हिमाचल: कुल्लू में फटा बादल, सड़कों-फसलों को नुकसान, प्रदेश में भारी बारिश का अलर्ट

[ad_1]

अमर उजाला नेटवर्क, कुल्लू
Revealed by: Krishan Singh
Up to date Wed, 22 Sep 2021 08:17 PM IST

सार

26 सितंबर तक प्रदेश में बारिश का दौर जारी रहने का पूर्वानुमान है। मौसम विज्ञान केंद्र शिमला ने गुरुवार को शिमला, सोलन और सिरमौर में भारी बारिश का येलो अलर्ट जारी किया है। इस दौरान धुंध छाए रहने और भूस्खलन के आसार हैं।

कुल्लू में बादल फटा।
– फोटो : अमर उजाला

ख़बर सुनें

हिमाचल प्रदेश में येलो अलर्ट के बीच बुधवार को कुल्लू की रघुपुर घाटी में बादल फटने से सड़कों और फसलों को भारी नुकसान हुआ है। जिले के तीन गांवों के पैदल रास्ते टूट गए हैं। बादल फटने से क्षेत्र में मटर की फसल तबाह हो गई है। रास्ते टूटने से फनौटी पंचायत में 1000 सेब की पेटियां फंस गई हैं। राजधानी शिमला सहित कई जिलों में बुधवार को बादल छाए रहे। कुछ क्षेत्रों में बारिश भी हुई। विदाई से पहले हिमाचल में मानसून फिर सक्रिय हो गया है। 

 22 सड़कों पर यातायात बंद
बुधवार को प्रदेश भर में 22 सड़कों पर यातायात बंद रहा। 11 सड़कें सिरमौर, 5 मंडी, 3 कुल्लू, 2 शिमला और एक बिलासपुर जिले में बंद रही। प्रदेश में बुधवार को 41 बिजली ट्रांसफार्मर ठप रहे। इनमें 27 सिरमौर और 14 कुल्लू जिला में हैं। इसके अलावा बीस मकान और 10 गोशालाएं भी क्षतिग्रस्त हुई हैं। जिला कुल्लू में बुधवार को तीसरे दिन भी बारिश के साथ पहाड़ों में बर्फ के फाहे गिरे। जिला कुल्लू के बाह्य सराज की रघुपुर घाटी में बुधवार शाम करीब चार बजे के आसपास अचानक तेज बारिश होने से बादल फट गया।

खड्ड किनारे खेत बह गए
जिससे फनौटी खड्ड में बाढ़ आ गई। बाढ़ में रोहाचला-जुहड़ सड़क के साथ खड्ड किनारे खेत बह गए हैं। वहीं बारिश से मटर की खेती को नुकसान पहुंचा है। बादल फटने से आई बाढ़ से सड़क के साथ गांव को जोड़ने वाले पैदल रास्तों को भी नामोनिशान मिट गया। वहीं, रोहतांग दर्रा के साथ बारालाचा व कुंजुुम दर्रा में फाहे गिरने से मौसम में ठंडक बढ़ गई है। बुधवार को पालमपुर में 41, बिलासपुर में 6, सोलन में 5.6, धर्मशाला-ऊना में 3 मिलीमीटर बारिश रिकार्ड हुई। बुधवार को प्रदेश के अधिकतम तापमान में तीन से चार डिग्री की कमी दर्ज हुई। 

 26 तक जारी रहेगी बारिश
26 सितंबर तक प्रदेश में बारिश का दौर जारी रहने का पूर्वानुमान है। मौसम विज्ञान केंद्र शिमला ने गुरुवार को शिमला, सोलन और सिरमौर में भारी बारिश का येलो अलर्ट जारी किया है। इस दौरान धुंध छाए रहने और भूस्खलन के आसार हैं। लोगों से नदी और नालों से दूर रहने की अपील की गई है।

प्रदेश में इस बार मानसून शुरू होने से अभी तक 1070 करोड़ रुपये का नुकसान हो चुका है। 424 लोगों की जान जा चुकी है। 13 लोग लापता भी इनमें शामिल हैं। 700 पशुओं की भी मृत्यु हुई है। 1000 से ज्यादा मकान क्षतिग्रस्त हुए हैं। यह जानकारी प्रधान सचिव राजस्व ओंकार शर्मा ने दी है। भारत सरकार को इस संबंध में एक ज्ञापन भेजा जाएगा। वहां से टीम आएगी और वह नुकसान का आकलन करेगी। 

विस्तार

हिमाचल प्रदेश में येलो अलर्ट के बीच बुधवार को कुल्लू की रघुपुर घाटी में बादल फटने से सड़कों और फसलों को भारी नुकसान हुआ है। जिले के तीन गांवों के पैदल रास्ते टूट गए हैं। बादल फटने से क्षेत्र में मटर की फसल तबाह हो गई है। रास्ते टूटने से फनौटी पंचायत में 1000 सेब की पेटियां फंस गई हैं। राजधानी शिमला सहित कई जिलों में बुधवार को बादल छाए रहे। कुछ क्षेत्रों में बारिश भी हुई। विदाई से पहले हिमाचल में मानसून फिर सक्रिय हो गया है। 

 22 सड़कों पर यातायात बंद

बुधवार को प्रदेश भर में 22 सड़कों पर यातायात बंद रहा। 11 सड़कें सिरमौर, 5 मंडी, 3 कुल्लू, 2 शिमला और एक बिलासपुर जिले में बंद रही। प्रदेश में बुधवार को 41 बिजली ट्रांसफार्मर ठप रहे। इनमें 27 सिरमौर और 14 कुल्लू जिला में हैं। इसके अलावा बीस मकान और 10 गोशालाएं भी क्षतिग्रस्त हुई हैं। जिला कुल्लू में बुधवार को तीसरे दिन भी बारिश के साथ पहाड़ों में बर्फ के फाहे गिरे। जिला कुल्लू के बाह्य सराज की रघुपुर घाटी में बुधवार शाम करीब चार बजे के आसपास अचानक तेज बारिश होने से बादल फट गया।

खड्ड किनारे खेत बह गए

जिससे फनौटी खड्ड में बाढ़ आ गई। बाढ़ में रोहाचला-जुहड़ सड़क के साथ खड्ड किनारे खेत बह गए हैं। वहीं बारिश से मटर की खेती को नुकसान पहुंचा है। बादल फटने से आई बाढ़ से सड़क के साथ गांव को जोड़ने वाले पैदल रास्तों को भी नामोनिशान मिट गया। वहीं, रोहतांग दर्रा के साथ बारालाचा व कुंजुुम दर्रा में फाहे गिरने से मौसम में ठंडक बढ़ गई है। बुधवार को पालमपुर में 41, बिलासपुर में 6, सोलन में 5.6, धर्मशाला-ऊना में 3 मिलीमीटर बारिश रिकार्ड हुई। बुधवार को प्रदेश के अधिकतम तापमान में तीन से चार डिग्री की कमी दर्ज हुई। 

 26 तक जारी रहेगी बारिश

26 सितंबर तक प्रदेश में बारिश का दौर जारी रहने का पूर्वानुमान है। मौसम विज्ञान केंद्र शिमला ने गुरुवार को शिमला, सोलन और सिरमौर में भारी बारिश का येलो अलर्ट जारी किया है। इस दौरान धुंध छाए रहने और भूस्खलन के आसार हैं। लोगों से नदी और नालों से दूर रहने की अपील की गई है।


आगे पढ़ें

बरसात में 1070 करोड़ रुपये का नुकसान 

[ad_2]

Supply hyperlink

Share on:

नमस्कार दोस्तों, मैं Pinku, HindiMeJabab(हिन्दी में जवाब) का Technical Author & Co-Founder हूँ. Education की बात करूँ तो मैं 10th Pass हूँ. मुझे नयी नयी चीजों को सीखना और दूसरों को सिखाने में बड़ा मज़ा आता है. मेरी आपसे विनती है की आप लोग इसी तरह हमारा सहयोग देते रहिये और हम आपके लिए नईं-नईं जानकारी उपलब्ध करवाते रहेंगे.

Leave a Comment