Energetic Instances Are Going Down Throughout The Nation, Cumulative Restoration Fee Rising: Union Well being Secy Rajesh Bhushan – कोरोना वायरस: रिकवरी रेट 98 फीसदी हुआ, त्योहारों के सीजन से पहले सरकार ने किया अलर्ट

[ad_1]

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली
Revealed by: Amit Mandal
Up to date Thu, 30 Sep 2021 04:35 PM IST

सार

स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने कहा कि पूरे देश में कोरोना संक्रमण के मामलों में अब कमी आ रही है और स्वस्थ होने की दर बढ़ रही है। इसके साथ ही उन्होंने त्योहारों के मद्देनजर अलर्ट भी किया। 

स्वास्थ्य मंत्रालय के सचिव राजेश भूषण
– फोटो : एएनआई

ख़बर सुनें

स्वास्थ्य मंत्रालय ने आज जानकारी दी कि देश में कोरोना संक्रमण के मामलों में अब लगातार कमी आ रही है और स्वस्थ होने की दर बढ़ रही है। रिकवरी रेट करीब 98 फीसदी पहुंच गया है। 

त्योहारों के मद्देनजर लोगों को चेताते हुए स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने कहा कि त्योहारों के करीब आने के साथ ही हम लोगों से अपील करते हैं कि भीड़भाड़ न करें, शारीरिक दूरी बनाए रखें और मास्क का जरूर इस्तेमाल करें। 

राजेश भूषण ने कहा कि केरल में कोरोना संक्रमण के मामले घट रहे हैं, हालांकि कुल मामलों में इस राज्य का योगदान सबसे अधिक है। देश के 18 जिलों में संक्रमण दर 5 से 10 फीसदी के बीच बनी हुई है। 

भूषण ने जानकारी दी कि केरल में सबसे अधिक 1,44,000 सक्रिय केस हैं जो देश का 52 फीसदी है। महाराष्ट्र में 40 हजार सक्रिय मामले, तमिलनाडु में 17 हजार, मिजोरम में 16800, कर्नाटक में 12 हजार और आंध्र प्रदेश में करीब 11 हजार सक्रिय मामले हैं।

विस्तार

स्वास्थ्य मंत्रालय ने आज जानकारी दी कि देश में कोरोना संक्रमण के मामलों में अब लगातार कमी आ रही है और स्वस्थ होने की दर बढ़ रही है। रिकवरी रेट करीब 98 फीसदी पहुंच गया है। 

त्योहारों के मद्देनजर लोगों को चेताते हुए स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने कहा कि त्योहारों के करीब आने के साथ ही हम लोगों से अपील करते हैं कि भीड़भाड़ न करें, शारीरिक दूरी बनाए रखें और मास्क का जरूर इस्तेमाल करें। 

राजेश भूषण ने कहा कि केरल में कोरोना संक्रमण के मामले घट रहे हैं, हालांकि कुल मामलों में इस राज्य का योगदान सबसे अधिक है। देश के 18 जिलों में संक्रमण दर 5 से 10 फीसदी के बीच बनी हुई है। 

भूषण ने जानकारी दी कि केरल में सबसे अधिक 1,44,000 सक्रिय केस हैं जो देश का 52 फीसदी है। महाराष्ट्र में 40 हजार सक्रिय मामले, तमिलनाडु में 17 हजार, मिजोरम में 16800, कर्नाटक में 12 हजार और आंध्र प्रदेश में करीब 11 हजार सक्रिय मामले हैं।

[ad_2]

Supply hyperlink

Share on:

नमस्कार दोस्तों, मैं Pinku, HindiMeJabab(हिन्दी में जवाब) का Technical Author & Co-Founder हूँ. Education की बात करूँ तो मैं 10th Pass हूँ. मुझे नयी नयी चीजों को सीखना और दूसरों को सिखाने में बड़ा मज़ा आता है. मेरी आपसे विनती है की आप लोग इसी तरह हमारा सहयोग देते रहिये और हम आपके लिए नईं-नईं जानकारी उपलब्ध करवाते रहेंगे.

Leave a Comment