Dubai Expo Three Employees Died And Extra Than 70 Injured – दुबई एक्सपो: साइट निर्माण में लगे तीन मजदूरों की हुई मौत, 70 से ज्यादा लोग घायल 

[ad_1]

वर्ल्ड डेस्क, अमर उजाला, दुबई
Printed by: प्रांजुल श्रीवास्तव
Up to date Solar, 03 Oct 2021 11:56 AM IST

सार

एक्सपो से जुड़े अधिकारियों का कहना है कि मजदूरों की सुरक्षा के लिए हमने विश्वस्तरीय मानकों का पालन किया है। हालांकि, दुर्भाग्य से तीन मजदूरों की मौत हुई और 70 से ज्यादा लोग घायल हो गए। 

ख़बर सुनें

दुबई एक्सपो 2020 साइट के निर्माण में लगे तीन मजूदरों की मौत हो गई थी। वहीं इसके निर्माण में 70 से ज्यादा लोग गंभीर रूप से घायल हुए हैं। यह जानकारी सुरक्षा व्यवस्था में लगे अधिकारियों की ओर से शनिवार को दी गई है। 

काफी आलोचना के बाद एक्सपो से जुड़े अधिकारियों ने स्वीकार किया है कि साइट निर्माण में हुए हादसों में तीन मजदरों की मौत हो गई थी। वहीं 70 से ज्यादा लोग घायल हुए थे। हालांकि, अधिकारियों का कहना है कि उनकी ओर से मजदूरों की सुरक्षा को सर्वोच्च प्राथमिकता में रखा गया था और सभी विश्वस्तरीय मानकों व नियमों का पालन किया गया है। 

बहिष्कार के बाद सामने आए आंकड़े 
ये आंकड़े तब सामने आए हैं जब यूरोपियन पार्लियामेंट ने छह महीने तक चलने वाले विश्वस्तरीय मेले का बहिष्कार करने का ऐलान किया है। साथ ही संयुक्त अरब अमीरत के मानवाधिकार संबंधी आंकड़ों और मजदूरों के साथ अमानवीय व्यवहार की अलोचना की है। 

दो लाख मजदूरों ने किया है साइट का निर्माण 
दुबई से बाहर एक्सपो के लिए करीब दो लाख मजदूरों ने एक विशाल साइट का निर्माण किया है। इस साइट में 100 से ज्यादा पैवेलियन व अन्य सुविधाएं उपलब्ध हैं। 

दावा, ब्रिटेन की तुलना में कम हुई दुर्घटनाएं 
एक्सपो से जुड़े अधिकारियों का कहना है कि साइट पर 247 मिलियन काम के घंटे पूरे हो चुके हैं। इस दौरान हमने विश्वस्तयीय नियमों, सुरक्षा मानकों का पालन किया है। इस कारण जो भी हादसे हुए वे ब्रिटेन की तुलना में कम हुए हैं। 

विस्तार

दुबई एक्सपो 2020 साइट के निर्माण में लगे तीन मजूदरों की मौत हो गई थी। वहीं इसके निर्माण में 70 से ज्यादा लोग गंभीर रूप से घायल हुए हैं। यह जानकारी सुरक्षा व्यवस्था में लगे अधिकारियों की ओर से शनिवार को दी गई है। 

काफी आलोचना के बाद एक्सपो से जुड़े अधिकारियों ने स्वीकार किया है कि साइट निर्माण में हुए हादसों में तीन मजदरों की मौत हो गई थी। वहीं 70 से ज्यादा लोग घायल हुए थे। हालांकि, अधिकारियों का कहना है कि उनकी ओर से मजदूरों की सुरक्षा को सर्वोच्च प्राथमिकता में रखा गया था और सभी विश्वस्तरीय मानकों व नियमों का पालन किया गया है। 

बहिष्कार के बाद सामने आए आंकड़े 

ये आंकड़े तब सामने आए हैं जब यूरोपियन पार्लियामेंट ने छह महीने तक चलने वाले विश्वस्तरीय मेले का बहिष्कार करने का ऐलान किया है। साथ ही संयुक्त अरब अमीरत के मानवाधिकार संबंधी आंकड़ों और मजदूरों के साथ अमानवीय व्यवहार की अलोचना की है। 

दो लाख मजदूरों ने किया है साइट का निर्माण 

दुबई से बाहर एक्सपो के लिए करीब दो लाख मजदूरों ने एक विशाल साइट का निर्माण किया है। इस साइट में 100 से ज्यादा पैवेलियन व अन्य सुविधाएं उपलब्ध हैं। 

दावा, ब्रिटेन की तुलना में कम हुई दुर्घटनाएं 

एक्सपो से जुड़े अधिकारियों का कहना है कि साइट पर 247 मिलियन काम के घंटे पूरे हो चुके हैं। इस दौरान हमने विश्वस्तयीय नियमों, सुरक्षा मानकों का पालन किया है। इस कारण जो भी हादसे हुए वे ब्रिटेन की तुलना में कम हुए हैं। 

[ad_2]

Supply hyperlink

Share on:

नमस्कार दोस्तों, मैं Pinku, HindiMeJabab(हिन्दी में जवाब) का Technical Author & Co-Founder हूँ. Education की बात करूँ तो मैं 10th Pass हूँ. मुझे नयी नयी चीजों को सीखना और दूसरों को सिखाने में बड़ा मज़ा आता है. मेरी आपसे विनती है की आप लोग इसी तरह हमारा सहयोग देते रहिये और हम आपके लिए नईं-नईं जानकारी उपलब्ध करवाते रहेंगे.

Leave a Comment