Dalit Youngster Went Temple From Miyapura Village In Koppal To Search God Blessings On His Birthday, Household Fined 35000 – शर्मनाक: जन्मदिन पर आशीर्वाद लेने मंदिर गया दलित बच्चा, परिवार पर लगा 35 हजार रुपये का जुर्माना

[ad_1]

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, बंगलूरू
Printed by: संजीव कुमार झा
Up to date Wed, 22 Sep 2021 12:59 PM IST

सार

कर्नाटक के कोप्पल के मियापुरा गांव में एक चार साल के दलित बच्चे के मंदिर में प्रवेश करने के लिए 25,000 रुपये जुर्माना लगाया गया। साथ ही उसे मंदिर परिसर को साफ करने के लिए 10,000 रुपये का भुगतान करने के लिए भी कहा गया।

ख़बर सुनें

सरकार दलितों की सुरक्षा के लिए भले ही कितने ही कठोर कानून क्यों न बना लें लेकिन इसका असर लोगों पर कम ही दिखाई दे रहा है। ताजा मामला है कर्नाटक का जहां दलित परिवार का एक बच्चा अपने जन्मदिन पर पूजा करने के लिए मंदिर गया था, जिसकी भनक गांव वालों को लग गई। फिर क्या था आस पास के लोगों को दलित बच्चे का इस तरह से मंदिर जाना नागवार गुजरा और उसके परिवार पर 35 हजार रुपये का जुर्माना लगा दिया।

क्या है मामला
कर्नाटक के कोप्पल के मियापुरा गांव में एक दलित परिवार के चार साल के बेटे द्वारा अपने जन्मदिन के अवसर पर मंदिर में प्रवेश करने के लिए 25,000 रुपये जुर्माना लगाया गया। साथ ही उसे मंदिर परिसर की सफाई के लिए 10,000 रुपये का भुगतान करने के लिए भी कहा गया। वहीं मामले का पता चलते ही चन्नादासर समुदाय के सदस्यों ने तब पुलिस से संपर्क किया और जुर्माना लेने वालों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की।  

मामला दर्ज
कोप्पल के एसपी टी श्रीधर ने जानकारी देते हुए बताया कि इस मामले में केस दर्ज कर लिया गया है और पांच लोगों को हिरासत में भी गया है। सभी आरोपियों से पूछताछ जारी है। वहीं कार्रवाई को देखते हुए गांव के बुजुर्गों ने माफी मांगी और कहा कि यह गलतफहमी के कारण हुआ। 

विस्तार

सरकार दलितों की सुरक्षा के लिए भले ही कितने ही कठोर कानून क्यों न बना लें लेकिन इसका असर लोगों पर कम ही दिखाई दे रहा है। ताजा मामला है कर्नाटक का जहां दलित परिवार का एक बच्चा अपने जन्मदिन पर पूजा करने के लिए मंदिर गया था, जिसकी भनक गांव वालों को लग गई। फिर क्या था आस पास के लोगों को दलित बच्चे का इस तरह से मंदिर जाना नागवार गुजरा और उसके परिवार पर 35 हजार रुपये का जुर्माना लगा दिया।

क्या है मामला

कर्नाटक के कोप्पल के मियापुरा गांव में एक दलित परिवार के चार साल के बेटे द्वारा अपने जन्मदिन के अवसर पर मंदिर में प्रवेश करने के लिए 25,000 रुपये जुर्माना लगाया गया। साथ ही उसे मंदिर परिसर की सफाई के लिए 10,000 रुपये का भुगतान करने के लिए भी कहा गया। वहीं मामले का पता चलते ही चन्नादासर समुदाय के सदस्यों ने तब पुलिस से संपर्क किया और जुर्माना लेने वालों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की।  

मामला दर्ज

कोप्पल के एसपी टी श्रीधर ने जानकारी देते हुए बताया कि इस मामले में केस दर्ज कर लिया गया है और पांच लोगों को हिरासत में भी गया है। सभी आरोपियों से पूछताछ जारी है। वहीं कार्रवाई को देखते हुए गांव के बुजुर्गों ने माफी मांगी और कहा कि यह गलतफहमी के कारण हुआ। 

[ad_2]

Supply hyperlink

Share on:

नमस्कार दोस्तों, मैं Pinku, HindiMeJabab(हिन्दी में जवाब) का Technical Author & Co-Founder हूँ. Education की बात करूँ तो मैं 10th Pass हूँ. मुझे नयी नयी चीजों को सीखना और दूसरों को सिखाने में बड़ा मज़ा आता है. मेरी आपसे विनती है की आप लोग इसी तरह हमारा सहयोग देते रहिये और हम आपके लिए नईं-नईं जानकारी उपलब्ध करवाते रहेंगे.

Leave a Comment