Competitors Fee Of India Denies Leaking Confidential Stories As Alleged By Google Llc In A Plea – दस्तावेज लीक पर बवाल: गूगल के आरोप को Cci ने बताया बेबुनियाद, कहा- मीडिया हाउस पर मुकदमा करे गूगल

[ad_1]

टेक डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली
Revealed by: प्रदीप पाण्डेय
Up to date Fri, 24 Sep 2021 12:12 PM IST

सार

23 सितंबर को Google ने गोपनीय डाटा लीक को लेकर दिल्ली हाईकोर्ट में सीसीआई के खिलाफ रिट याचिका दायर की थी। गूगल ने दिल्ली हाईकोर्ट को बताया है कि वह नहीं चाहता है कि भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग कोई गोपनीय डाटा को गैरकानूनी तरीके से सार्वजनिक करे।

ख़बर सुनें

गूगल ने गोपनीय डाटा लीक को लेकर दिल्ली हाईकोर्ट में भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग (सीसीआई) के खिलाफ रिट याचिका दायर की थी। अब इस याचिका पर दिल्ली हाईकोर्ट में सीसीआई की ओर से ASG एन वेंकटरमन ने आरोप का खंडन करते हुए कहा कि यह आरोप बेबुनियाद है। सीसीआई की ओर से मीडिया में कोई डाटा लीक नहीं किया गया है। गूगल को कायदे से उन मीडिया हाउस पर मुकदमा करना चाहिए जिन्होंने गोपनीय दस्तावेज को लेकर रिपोर्ट प्रकाशित की है।

दरअसल 23 सितंबर को Google ने गोपनीय डाटा लीक को लेकर दिल्ली हाईकोर्ट में सीसीआई के खिलाफ रिट याचिका दायर की थी। गूगल ने दिल्ली हाईकोर्ट को बताया है कि वह नहीं चाहता है कि भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग कोई गोपनीय डाटा को गैरकानूनी तरीके से सार्वजनिक करे। गूगल ने सीधे तौर पर सीसीआई पर गोपनीय डाटा को लीकर करने का आरोप लगाया है।

गूगल ने कहा है कि उसने इसी महीने गूगल के एंड्रॉयड स्मार्टफोन की डील को लेकर चल रही एक जांच रिपोर्ट को सीसीआई को सौंपी थी जिसे मीडिया में लीक कर दिया गया है। गूगल का कहना है इससे उसे और उसके पार्टनर की छवि को नुकसान हुआ है।

यहां यह भी ध्यान देने वाली बात है कि सीसीआई वेब सर्च मार्केट में गूगल के एकाधिकार को लेकर भी जांच कर रहा है। इसके अलावा सीसीआई के निशाने पर गूगल के स्मार्टफोन ओएस और स्मार्ट टीवी ओएस भी हैं, क्योंकि तमाम कंपनियां एंड्रॉयड ओएस के अलावा एंड्रॉयड टीवी ओएस का इस्तेमाल कर रही हैं जो कि गूगल का ही है। ऐसे में इस मार्केट में भी गूगल के एकाधिकार को लेकर जांच हो सकती है।

गूगल ने अपनी याचिका में कहा है कि किसी भी सरकारी जांच में दस्तावेजों की गोपनीयता बहुत जरूरी होती है, जबकि सीसीआई ने ऐसे दस्तावेज को मीडिया में लीक कर दिया है। हम इसके समाधान के लिए कानूनी अधिकार का पालन कर रहे हैं और भविष्य में इस तरह कोई डाटा लीक ना हो, इसके लिए मांग करते हैं।

गूगल ने आगे कहा है कि उसके खिलाफ चल रही जांच को लेकर अभी तक अपना पक्ष नहीं रखा है और ना ही सीसीआई ने कोई अंतिम निर्णय लिया है। ऐसे में दस्तावेज को मीडिया के साथ शेयर करना एक अनुचित व्यवहार है।

विस्तार

गूगल ने गोपनीय डाटा लीक को लेकर दिल्ली हाईकोर्ट में भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग (सीसीआई) के खिलाफ रिट याचिका दायर की थी। अब इस याचिका पर दिल्ली हाईकोर्ट में सीसीआई की ओर से ASG एन वेंकटरमन ने आरोप का खंडन करते हुए कहा कि यह आरोप बेबुनियाद है। सीसीआई की ओर से मीडिया में कोई डाटा लीक नहीं किया गया है। गूगल को कायदे से उन मीडिया हाउस पर मुकदमा करना चाहिए जिन्होंने गोपनीय दस्तावेज को लेकर रिपोर्ट प्रकाशित की है।

दरअसल 23 सितंबर को Google ने गोपनीय डाटा लीक को लेकर दिल्ली हाईकोर्ट में सीसीआई के खिलाफ रिट याचिका दायर की थी। गूगल ने दिल्ली हाईकोर्ट को बताया है कि वह नहीं चाहता है कि भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग कोई गोपनीय डाटा को गैरकानूनी तरीके से सार्वजनिक करे। गूगल ने सीधे तौर पर सीसीआई पर गोपनीय डाटा को लीकर करने का आरोप लगाया है।

गूगल ने कहा है कि उसने इसी महीने गूगल के एंड्रॉयड स्मार्टफोन की डील को लेकर चल रही एक जांच रिपोर्ट को सीसीआई को सौंपी थी जिसे मीडिया में लीक कर दिया गया है। गूगल का कहना है इससे उसे और उसके पार्टनर की छवि को नुकसान हुआ है।

यहां यह भी ध्यान देने वाली बात है कि सीसीआई वेब सर्च मार्केट में गूगल के एकाधिकार को लेकर भी जांच कर रहा है। इसके अलावा सीसीआई के निशाने पर गूगल के स्मार्टफोन ओएस और स्मार्ट टीवी ओएस भी हैं, क्योंकि तमाम कंपनियां एंड्रॉयड ओएस के अलावा एंड्रॉयड टीवी ओएस का इस्तेमाल कर रही हैं जो कि गूगल का ही है। ऐसे में इस मार्केट में भी गूगल के एकाधिकार को लेकर जांच हो सकती है।

गूगल ने अपनी याचिका में कहा है कि किसी भी सरकारी जांच में दस्तावेजों की गोपनीयता बहुत जरूरी होती है, जबकि सीसीआई ने ऐसे दस्तावेज को मीडिया में लीक कर दिया है। हम इसके समाधान के लिए कानूनी अधिकार का पालन कर रहे हैं और भविष्य में इस तरह कोई डाटा लीक ना हो, इसके लिए मांग करते हैं।

गूगल ने आगे कहा है कि उसके खिलाफ चल रही जांच को लेकर अभी तक अपना पक्ष नहीं रखा है और ना ही सीसीआई ने कोई अंतिम निर्णय लिया है। ऐसे में दस्तावेज को मीडिया के साथ शेयर करना एक अनुचित व्यवहार है।

[ad_2]

Supply hyperlink

Share on:

नमस्कार दोस्तों, मैं Pinku, HindiMeJabab(हिन्दी में जवाब) का Technical Author & Co-Founder हूँ. Education की बात करूँ तो मैं 10th Pass हूँ. मुझे नयी नयी चीजों को सीखना और दूसरों को सिखाने में बड़ा मज़ा आता है. मेरी आपसे विनती है की आप लोग इसी तरह हमारा सहयोग देते रहिये और हम आपके लिए नईं-नईं जानकारी उपलब्ध करवाते रहेंगे.

Leave a Comment