Bhawanipur By-election: Tmc Candidate Mamta Banerjee Out of the blue Reached Sola Ana Masjid, Might Spark Political Controversy – भवानीपुर उपचुनाव : टीएमसी प्रत्याशी ममता बनर्जी अचानक पहुंचीं सोला आना मस्जिद, छिड़ सकता है सियासी विवाद

0
1


न्यूज डेस्क, अमर उजाला, कोलकाता
Revealed by: सुरेंद्र जोशी
Up to date Mon, 13 Sep 2021 05:20 PM IST

सार

बंगाल में तीन सीटों के लिए हो रहे उपचुनाव की सरगर्मी तेज हो गई है। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी भवानीपुर सीट से मैदान में हैं। सोमवार को उनके क्षेत्र की एक मस्जिद में जाने से नया सियासी विवाद छिड़ सकता है। 
 

ख़बर सुनें

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री व भवानीपुर विधानसभा सीट से टीएमसी प्रत्याशी ममता बनर्जी सोमवार को अचानक क्षेत्र की सोला आना मस्जिद पहुंच गईं। यहां उन्होंने क्षेत्र के रहवासियों से मुलाकात की। इस दौरान बड़ी संख्या में लोग मस्जिद पहुंच गए और उनसे चर्चा के बाद तस्वीरें ली गईं। 

देखें वीडियो

बता दें, बंगाल की तीन सीटों के लिए 30 सितंबर को उपचुनाव हो रहा है। इनमें भवानीपुर सीट से मुख्यमंत्री ममता बनर्जी चुनाव लड़ रही हैं। भाजपा ने उनके मुकाबले प्रियंका टिबरेवाल को मैदान में उतारा है। 

भाजपा प्रत्याशी ने कालीघाट मंदिर में जाने के बाद शुरू किया था प्रचार
रविवार से प्रियंका टिबरेवाल ने अपना प्रचार शुरू कर दिया है। इससे पहले शनिवार को प्रियंका ने कोलकाता के कालीघाट मंदिर में जाकर पूजा-अर्चना की। कालीघाट मंदिर में पूजा अर्चना के बाद प्रियंका ने चुनाव बाद हुई हिंसा को लेकर ममता बनर्जी पर तंज कसा था। प्रियंका ने कहा कि उन्होंने राज्य में हो रहे अन्याय के खिलाफ लोगों की सुरक्षा के लिए देवी काली से प्रार्थना की। प्रियंका ने कहा कि उनकी लड़ाई सत्ता में मौजूद उस पार्टी के खिलाफ है, जिसने जनता के खिलाफ अन्याय और हिंसा को बढ़ावा दिया है। बता दें, कालीघाट में ही मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का घर है और यह इलाका भवानीपुर विधानसभा क्षेत्र में ही आता है।

टिबरेवाल ने दाखिल किया नामांकन
भवानीपुर हाईप्रोफाइल सीट के लिए ममता बनर्जी दो दिन पहले ही नामांकन दाखिल कर चुकी हैं। भाजपा प्रत्याशी प्रियंका टिबरेवाल ने भी सोमवार को नामांकन दाखिल कर दिया। टिबरेवाल ने कोलकाता के अलिपोर में अपना नामांकन किया। इस दौरान भाजपा नेता और विधानसभा में प्रतिपक्ष के नेता सुवेंदु अधिकारी भी मौजूद रहे। ममता बनर्जी ने कोलकाता में ही नामांकन दाखिल किया था। 

बता दे, मार्च अप्रैल में हुए विधानसभा चुनाव में ममता बनर्जी नंदीग्राम सीट से चुनाव लड़ी थीं, लेकिन उन्हें भाजपा के सुवेंदु अधिकारी ने हरा दिया था। बंगाल का सीएम बने रहने के लिए ममता को नवंबर से पूर्व विधानसभा चुनाव जीतना जरूरी है। राज्य की तीन विधानसभा सीट पर 30 सितंबर को उपचुनाव होगा। मतगणना तीन अक्तूबर को होगी। उपचुनाव के लिए चुनाव आयोग ने नामांकन से पहले और बाद के जुलूस पर प्रतिबंध लगाए हैं।

विस्तार

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री व भवानीपुर विधानसभा सीट से टीएमसी प्रत्याशी ममता बनर्जी सोमवार को अचानक क्षेत्र की सोला आना मस्जिद पहुंच गईं। यहां उन्होंने क्षेत्र के रहवासियों से मुलाकात की। इस दौरान बड़ी संख्या में लोग मस्जिद पहुंच गए और उनसे चर्चा के बाद तस्वीरें ली गईं। 

देखें वीडियो

बता दें, बंगाल की तीन सीटों के लिए 30 सितंबर को उपचुनाव हो रहा है। इनमें भवानीपुर सीट से मुख्यमंत्री ममता बनर्जी चुनाव लड़ रही हैं। भाजपा ने उनके मुकाबले प्रियंका टिबरेवाल को मैदान में उतारा है। 

भाजपा प्रत्याशी ने कालीघाट मंदिर में जाने के बाद शुरू किया था प्रचार

रविवार से प्रियंका टिबरेवाल ने अपना प्रचार शुरू कर दिया है। इससे पहले शनिवार को प्रियंका ने कोलकाता के कालीघाट मंदिर में जाकर पूजा-अर्चना की। कालीघाट मंदिर में पूजा अर्चना के बाद प्रियंका ने चुनाव बाद हुई हिंसा को लेकर ममता बनर्जी पर तंज कसा था। प्रियंका ने कहा कि उन्होंने राज्य में हो रहे अन्याय के खिलाफ लोगों की सुरक्षा के लिए देवी काली से प्रार्थना की। प्रियंका ने कहा कि उनकी लड़ाई सत्ता में मौजूद उस पार्टी के खिलाफ है, जिसने जनता के खिलाफ अन्याय और हिंसा को बढ़ावा दिया है। बता दें, कालीघाट में ही मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का घर है और यह इलाका भवानीपुर विधानसभा क्षेत्र में ही आता है।

टिबरेवाल ने दाखिल किया नामांकन

भवानीपुर हाईप्रोफाइल सीट के लिए ममता बनर्जी दो दिन पहले ही नामांकन दाखिल कर चुकी हैं। भाजपा प्रत्याशी प्रियंका टिबरेवाल ने भी सोमवार को नामांकन दाखिल कर दिया। टिबरेवाल ने कोलकाता के अलिपोर में अपना नामांकन किया। इस दौरान भाजपा नेता और विधानसभा में प्रतिपक्ष के नेता सुवेंदु अधिकारी भी मौजूद रहे। ममता बनर्जी ने कोलकाता में ही नामांकन दाखिल किया था। 

बता दे, मार्च अप्रैल में हुए विधानसभा चुनाव में ममता बनर्जी नंदीग्राम सीट से चुनाव लड़ी थीं, लेकिन उन्हें भाजपा के सुवेंदु अधिकारी ने हरा दिया था। बंगाल का सीएम बने रहने के लिए ममता को नवंबर से पूर्व विधानसभा चुनाव जीतना जरूरी है। राज्य की तीन विधानसभा सीट पर 30 सितंबर को उपचुनाव होगा। मतगणना तीन अक्तूबर को होगी। उपचुनाव के लिए चुनाव आयोग ने नामांकन से पहले और बाद के जुलूस पर प्रतिबंध लगाए हैं।





Supply hyperlink

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here